Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गाज़ीपुर। सात माह बाद पत्रकार के भाई के हत्या का खुला राज, कब्र से निकाली गयी लाश।

    महताब आलम\गाज़ीपुर। गाज़ीपुर में सात माह पूर्व दोस्तों द्वारा हत्या कर टैक्सी स्टेण्ड रौजा ओवर ब्रिज के निचे दफ़नाये गये शव को आज पुलिस ने खुदवा कर निकलवा लिया। शव का कँकाल  पुलिस को मिली है।  बिरनो थाना क्षेत्र के बीरबलपुर निवासी आदित्यजी उर्फ़ धनजी दोस्तों के साथ प्रपार्टी डीलर का काम करता था, सात माह पूर्व आपसी विवाद के चलते रवि राय और राम नरेश राय ने आदित्यजी उर्फ़ धनजी की हत्या कर रौजा ओवर ब्रिज के रेलवे ट्रेक के पास दफना दिया और सात माह तक उस के मोबाईल से घर वालों को मेसेज कर बरगलाता रहा। 

    इस सात माह में घर वालों को मृतक का मोबाईल का लोकेशन कभी वाराणसी तो कभी मऊ लखनऊ यहाँ तक की नेपाल का भी लोकेशन मिल रहा था जिस से घर वालों को धन जी के जिन्दा होने की आस लगी थी। इस हत्या का खुलासा उस समय हुआ जब दो साथी कल्लू और अजित ने उस के चचेरे पत्रकार भाई सुजीत सिंह को हत्या की बात बताई। सुजीत सिंह ने इस बात का भरोसा करते हुए पुलिस से गुहार लगायी थी। हालांकि की मामला पत्रकार का होने के चलते पुलिस और स्वाट टीम और सर्विलांस टीम ने बिना हिला हवाली करते हुए  24 घंटो में कब्र से शव को बरामद कर लिया। 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.