Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या। पुलिस ने हत्या का किया खुलासा; प्रेम संबध में बाधा बनने पर बड़े भाई ने छोटे भाई की हत्या कर दी।

    देव बक्स वर्मा

    अयोध्या। घोर कलयुग चल रहा है! लोग इश्क के चक्कर में अपने खून के रिश्ते को भी भूल जाते हैं! और सगे भाई को भी मौत के घाट उतारने में संकोच नहीं करते हैं !अयोध्या जनपद में पुलिस  द्वारा चलाये जा रहे अपराध नियंत्रण एवं अपराधियो के विरूद्ध अभियान के अन्तर्गत  थानाध्यक्ष थाना बाबा बाजार व स्वाट टीम अयोध्या के द्वारा सम्बन्धित मु0अ0सं0 052/2022 धारा 302 भादवि0 थाना बाबा बाजार जनपद अयोध्या से सम्बंधित अज्ञात वांछित अभियुक्त विकास साहू पुत्र राममूरत साहू नि0 ग्राम बनमऊ थाना बाबा बाजार, अयोध्या को प्राथमिक विद्यालय बनमऊ से  गिरफ्तार किया गया है व अभियुक्त की निशांदेही पर आलाकत्ल बरामद करने में सफलता प्राप्त की गई है।

    26 दिसंबर को ग्राम बनमऊ थाना बाबा बाजार, निवासी सुभाष पुत्र राममूरत उम्र करीब 14 वर्ष  ग्राम बनमऊ थाना बाबा बाजार जनपद अयोध्या की हत्या बनमऊ जंगल में कर दी गयी थी।जिसके सम्बंध मे थाना बाबा बाजार पर मु0अ0सं0 052/22 धारा 302 भादवि0 मे पंजीकृत कर विवेचना थानाध्यक्ष बाबा बाजार अयोध्या द्वारा की जा रही थी। जिसके सफल अनावरण हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अयोध्या के द्वारा थानाध्यक्ष बाबा बाजार व स्वाट टीम प्रभारी की टीमे गठित कि गयी थी। विवेचना के  सुरागरसी से अभियुक्त विकास साहू पुत्र राममूरत साहू उम्र करीब 19 वर्ष -ग्राम बनमऊ थाना बाबा बाजार का नाम प्रकाश मे आया।  को प्राथमिक विद्यालय बनमऊ के पास से  गिरफ्तार किया गया । 

    प्रेस वार्ता में  पुलिस के अनुसार आरोपी द्वारा जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि मैं और मेरी प्रेमिका जो मेरे गाँव की हैं जिससे मेरा प्रेम प्रसंग चल रहा है।  26.दिसंबर को सुबह 08 बजे के आस पास मृतक सुभाष अपने खेत के पास से गुजर रहा था तभी अपने भाई विकास और उसकी प्रेमिका को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया तो सुभाष ने कहा कि तुम लोग गन्दा काम करते हो मैं घर जाकर सबको बता दूंगा। विकास ने सुभाष को समझाया पर सुभाष नही माना।आरोपी विकास ने बहाने से सुभाष को कहा कि बड़े जंगल से लकड़ी लाकर खेत पर बाड लगानी है, कहकर सुभाष को बड़े जंगल की तरफ भेजकर विकास वापस घर आया और घर से हथौडा उठाया व हथौडे को अपनी जैकेट से ढक्कर जंगल में पहुँचा व पुनः अपने भाई सुभाष को फिर समझाया लेकिन वह मानने को तैयार नहीं हुआ तो विकास ने सुभाष से कहा जैकेट उतारकर गुदरी बनाकर कन्धे पर रख लो नहीं तो लकडी गढेंगी जैसे ही सुभाष ने अपना जैकेट उतारकर खडा हुआ तभी विकास ने क्रोध में आकर पीछे से अपने भाई सुभाष के सिर पर हथौडा मारा जिससे वह गिर गया गिरने पर विकास ने 3-4 बार सिर में दाहिनी तरफ हथौडा से मार दिया जिससे सुभाष की मृत्यु हो गई। उसके बाद विकास वहाँ से निकलकर नाले की कीचड़ में हाथ से हथौडे को दबा दिया। हाथ में व कलाई के पास जैकेट में खून लग गया था जिसे वहीं पास के नाले में पानी में धो लिया था।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.