Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    खीरी टाउन। फातिमा फाउंडेशन पर मनाई गई युवा दिवस के रुप में स्वामी विवेकानंद जयंती।

    शाहनवाज गौरी

    खीरी टाउन। आज कस्बा खीरी में भारतीय युवा संत स्वामी विवेकानंद की जयंती राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में फातिमा फाउंडेशन ऑफ एजुकेशन पर बड़ी ही धूमधाम और श्रद्धा के साथ मनाई गई ।कार्यक्रम में फातिमा फाउंडेशन के पदाधिकारी एवं छात्र छात्राएं उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के डायरेक्टर डॉक्टर नजर अंसारी ने की। संचालन छात्रा मोहिनी सिंह ने किया।अपने अध्यक्षीय भाषण में डॉक्टर नजर अंसारी ने स्वामी विवेकानंद जयंती की समस्त देशवासियों को मुबारकबाद  देते हुए कहा कि भारतीय युवा संत ने 1893 ई में शिकागो की धर्म संसद में भारतीय सभ्यता का बेबाक होकर ध्वज गाड़ा था, और हिंदुस्तानी संस्कृति की मिसाल पेश की थी। 

    उन्होंने भारतीय नौजवानों को अपनी जिम्मेदारी और राष्ट्र निर्माण में योगदान की जिम्मेदारी का एहसास कराया। उन्होंने कहा हर दौर में युवाओं ने न सिर्फ देश की बल्कि दुनिया की दिशा और दशा बदलने का काम किया है। भारतीय युवा राष्ट्र निर्माता है, जो कि आज भटक गया है भारतीय युवाओं को सही मार्गदर्शन की आवश्यकता है। उन्होंने भारतीय सरकार से युवाओं का सही मार्गदर्शन करने के मार्ग प्रशस्त करने की भी अपील की। छात्रा नजर फातिमा ने भारतीय युवाओं को ललकार ते हुए कहा कि उठो और जागो देश तुम्हारी तरफ हसरत भरी निगाहों से देख रहा है ,सरकार सरदार भगत सिंह का क्रांतिकारी खून तुम्हें ललकार रहा है ,भारतवर्ष की धरती माता जिसने अपने सीने पर हलचल वाकर तुम्हारे लिए अन्न उगाकर तुम्हें नौजवान बनाया है धरती माता तुम्हें पुकार रही है। उठो ,और तोड़ दो देश में फैले जातिवाद के खिलौने बंधन को और गाड़ दो एकता और अखंडता का ध्वज। कार्यक्रम को छात्रा मोहनी सिंह प्रतिमा सिंह ईशु वर्मा, दिव्या कश्यप, रेनू, आशा, जेबा अंसारी, रोजी और रोशनी ने भी अपने अपने विचार रखे। युवा संत स्वामी विवेकानंद जयंती युवा दिवस के रूप में बड़े ही जोश के साथ मनाई गई छात्र एवं छात्राओं में गजब का जोश  दिखा। 

    कार्यक्रम में उपस्थित छात्राओं को ललकारते  हुए भारतीय युवा डॉक्टर मुदस्सर नज़र ने कहा कि जीना है तो फूलन देवी जैसा जिगर पैदा करो , स्वामी विवेकानंद जैसा आत्मविश्वास ,और बाबा साहब भीमराव अंबेडकर जैसा दृढ़ निश्चय और संकल्प पैदा करो ,आंखों में चमक और जिगर में इंकलाब पैदा करो । जिसके अंदर  बदलाव की क्रांतिकारी सोच नहीं है धरती पर सम्मान से जीने का उसे कोई अधिकार नहीं है। जिला अध्यक्ष मो सलीम कस्सार पेंटर ने भी सम्बोधित किया। पत्रकार शाहनवाज गौरी उपस्थित रहे। सूक्ष्म जलपान एवम देश की खुशहाली एवं एकता की कामना के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.