Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बलिया। क्षय रोगियों को लिया गया गोद, महामहिम राज्यपाल द्वारा बांटी गई पोषण पोटली।

    रिपोर्ट- सै०आसिफ हुसैन ज़ैदी.

    बलिया। सोमवार को पी डब्लू डी डाक बंगले पर जनपद के टी बी मरीजों को गोद लेने का आयोजन किया गया। जिला क्षय रोग अधिकारी /रेड क्रॉस सोसायटी के सचिव डॉ० आनंद कुमार ने कहा कि सरकार द्वारा टीबी को सन् 2025 तक जड़ से खत्म करने का संकल्प है। इस दिशा में कई ठोस कदम उठाए गए है। उसी क्रम में निजी संस्थान, सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं अधिकारियों द्वारा टीबी मरीजों को गोद लिया जा रहा है। 

    जिसके माध्यम से गोद लिए हुए व्यक्ति को पोषण, उपचार और अन्य सहायता लाभार्थी को दी जाती है। जिला क्षय रोग अधिकारी /रेड क्रॉस सोसायटी के सचिव डॉ आनंद कुमार ने  बताया कि रेड क्रॉस सोसाइटी द्वारा अब तक वित्तीय वर्ष 2022 में 274 टीबी के मरीजों को गोद लिया गया है। रेड क्रॉस सोसाइटी द्वारा  टी बी के मरीजों को गोद लिए जाने का  अभियान 24 मार्च 2022 से चलाया जा रहा है। 

    उसी के क्रम में आज नये मरीजों को गोद लेने का कार्यक्रम आयोजित किया गया है, जिसमें व्यापार मंडल, सामाजिक संगठनों एवं रेड क्रास सोसायटी बलिया द्वारा 15 क्षय रोगियों को गोद लिया गया है। व्यापार मंडल द्वारा 10 एवं रेड क्रास सोसायटी बलिया द्वारा 05 क्षय रोगियों को गोद लिया गया है।

    इस क्रम में महामहिम माननीय राज्यपाल\अध्यक्ष इण्डियन रेड क्रास सोसायटी उत्तर प्रदेश आनंद बेन द्वारा गोद लिए गए मरीजों को फल की टोकरी तथा गोद लिए गए लोगों द्वारा पोषण पोटली क्षय रोगियों को दी गई।

    उन्होंने बताया कि टीबी को जड़ से खत्म करने के लिए सभी एकजुट होकर साथ आगे आयें चाहे अधिकारी हों, कर्मचारी हों, व्यापारी हों, सामाजिक संगठन या सामाजिक कार्यकर्ता, क्योंकि जब सभी का सहयोग मिलेगा, तभी हमारा यह नारा ‘टीबी हारेगा देश जीतेगा’ सफल होगा।

    उन्होंने गोद लेने वाले सभी लोगों के प्रति आभार व्यक्त किया तथा गोद लेने वाले सभी 15 लोगों को प्रशस्ति पत्र प्रदान किया। प्रशस्ति पत्र लेने वालों में शैलेन्द्र कुमार पाण्डेय, सरदार सुरेन्द्र सिंह खालसा, डॉ पंकज ओझा, सरदार जितेन्द्र सिंह, शशिकांत ओझा, रजनीकांत सिंह, सौरभ अग्रवाल आदि लोग रहे।

    टीबी के लक्षण:-

    • दो से तीन सप्ताह तक लगातार खांसी होना।
    • खांसी के साथ खून आना। 
    • सीने में दर्द या सांस लेते समय दर्द 
    • तेजी से वजन कम होना। 
    • रात में पसीना आना।
    • बहुत ज्यादा थकान होना।, संचालन उप जिला निरीक्षक अतुल कुमार तिवारी ने किया।

    इस अवसर पर जिलाधिकारी बलिया सौम्या अग्रवाल, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ जयंत कुमार सी डी ओ प्रवीण वर्मा, उप जिलाधिकारी सीमा पाण्डेय, पुलिस अधीक्षक राजकरण नैय्यर, अपर पुलिस अधीक्षक,सभी विभागों के अधिकारीगण, टी बी विभाग एवं रेड क्रास से कुमार अभिषेक, नंदिनी सिंह, एम ओ टी सी एम शत्रुघ्न पांडे, जिला कार्यक्रम समन्वयक आशीष सिंह, पी पी एम विवेक सिंह, अभिषेक सिंह, एस टी एस अवनीश चतुर्वेदी, संजीत श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.