Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद। पश्चिम प्रदेश निर्माण से ही सभी समस्याओं का हल संभव: भगत सिंह वर्मा

    शिबली इकबाल\देवबंद। मंगलवार को पश्चिम प्रदेश मुक्ति मोर्चा कार्यालय पर आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए मोर्चा राष्ट्रीय अध्यक्ष भगत सिंह वर्मा ने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 26 जिलों 6 मंडलों 27 लोकसभा क्षेत्रों 137 विधानसभा क्षेत्रों और 8 करोड़ की जनसंख्या का पृथक पश्चिम प्रदेश निर्माण होने तक पश्चिम प्रदेश मुक्ति मोर्चा का संघर्ष जारी रहेगा।भगत सिंह वर्मा ने कहा कि उत्तर प्रदेश एक बड़ा राज्य है उन्नति विकास की दृष्टि से उत्तर प्रदेश को चार भागों में बांट कर पृथक पश्चिम प्रदेश का निर्माण जरूरी है।कहा कि बड़ा राज्य होने के कारण पूरा प्रदेश गरीबी महंगाई भ्रष्टाचार बेरोजगारी अवयवस्था की चपेट में है।भगत सिंह वर्मा ने कहा कि पृथक पश्चिम प्रदेश बनने पर यहां शिक्षा व चिकित्सा अंतरराष्ट्रीय स्तर की होंगी और प्रति व्यक्ति वार्षिक आय कतर देश से भी अधिक होगी।भगत सिंह वर्मा ने महामहिम राष्ट्रपति जी और प्रधानमंत्री जी को एक पत्र लिखकर उत्तर प्रदेश को चार भागों में बांट कर पृथक पश्चिम प्रदेश का निर्माण कराने, देश की उन्नति के लिए छोटे-छोटे राज्यों के निर्माण के लिए राज्य पुनर्गठन आयोग का गठन करने, मेरठ में मिनी सचिवालय और हाईकोर्ट की बेंच की तत्काल स्थापना कराने और सहारनपुर में चिकित्सा की सुविधा हेतु एम्स की स्थापना करने की मांग की।

    बैठक में किसानो को सम्बोधित करते भगत सिंह वर्मा

    बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश महामंत्री आसिम मलिक ने कहा कि किसानों मजदूरों व्यापारियों छोटे दुकानदारों बुद्धिजीवियों वकीलों युवाओं और छात्रों को संघर्ष में आगे आकर पृथक पश्चिम प्रदेश निर्माण आंदोलन में बढ़-चढ़कर भागीदारी करनी चाहिए।पश्चिम प्रदेश निर्माण से ही सभी समस्याओं का हल संभव है।बैठक की अध्यक्षता जिला उपाध्यक्ष वसीम जहीरपुर ने की। बैठक में रविंद्र चैधरी,प्रधान नीरज सैनी,प्रधान सुधीर चैधरी, पूर्व जिला पंचायत सदस्य हाजी सुलेमान,हाजी साजिद,केसर आलम,महबूब हसन हाजी, बुद्धू हसन,डॉक्टर यशपाल त्यागी,सुभाष त्यागी,मांगेराम सैनी,जोगेंद्र सिंह,कालू सिंह आदि ने भाग लिया।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.