Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। कानपुर निवासी प्रत्येक बालिग सिख को गुरु सिंह सभा के सदस्य की श्रेणी में सम्मिलित किया जाए, पुलिस आयुक्त को सौंपा ज्ञापन।

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। श्री गुरु सिंह सभा लाटूश रोड, कानपुर सिखों की शीर्ष संस्था है जिसके अधीन कई गुरुद्वारे, स्कूल, कालेज के अलावा गुरु तेग बहादुर चैरिटेबल हॉस्पिटल, नारायणपुर्वा व गुरुद्वारा की करोड़ों की जमीने स्थित हैं इस सभा के स० हरविन्दर सिंह लार्ड विगत 25 वर्षों से प्रधान है।विगत कई वर्षों से हरविन्दर सिंह लार्ड पर विभिन्न सिख संघठनों ने गुरुद्वारों, स्कूलों व हॉस्पिटल पर वित्तीय अनियमताओं के गम्भीर आरोप लगाये और उन पर पद त्यागने का दबाव बनाया।गुरु सिंह सभा लाटूश रोड, कानपुर के अधीन चल रहे गुरुद्वारों व अन्य सिख संस्थाओं के फण्ड्स के दुरुपयोग को रोकने के लिए और इन्हें सिख धार्मिक मर्यादाओं अनुसार सिख भावनाओं के अनुरूप चलाने के लिए यह आवश्यक है कि श्री गुरु सिंह सभा के आकार का विस्तार किया जाए प्रत्येक कानपुर निवासी बालिग सिख को सभा के सदस्य की श्रेणी में सम्मिलित किया जाए। 

    गुरु गोबिन्द सिंह प्रकाश उत्सव पर स० हरविन्दर सिंह लार्ड ने 31 मार्च, 2023 को पद त्यागने की पेशकश की है इस घोषणा पर सिख समाज सशंकित है कि कहीं वह अपने किसी करिदे को इस पद पर स्थापित न कर दे। चूंकि सभा का पुराना इतिहास इसी ओर इशारा करता है।कानपुर सिख गुरुद्वारा सुधार समिति आपसे माँग करती है कि शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबन्धक कमेटी, अमृतसर और दिल्ली गुरुद्वारा प्रबन्धक कमेटी, दिल्ली की तर्ज पर श्री गुरु सिंह सभा लाटूश रोड, कानपुर का चुनाव प्रशासन अपनी देख-रेख में कराए और सभा के Stale By-laws जो निरर्थक हो चुके हैं उन्हें बदलकर कानपुर निवासी हर बालिग सिख को सभा में वोट का अधिकार दिया जाए। इससे सिख संस्थाएँ मजबूत होंगी और जन कल्याण की अधिक योजनाएँ चलाई जा सकेंगी। ज्ञापन के दौरान गुरु सिंह सभा कानपुर महानगर के प्रधान सिमरनजीत सिंह, गुरुद्वारा बाबा नामदेव के प्रधान नीतू सिंह, यूनाइटेड सिख संगत के प्रधान मोकम सिंह, युवा सिख मोर्चा के अध्यक्ष कंवलजीत सिंह मानू, सरदार मंजीत सिंह, इकबाल सिंह दुआ, हरदीप सिंह, जसवीर सिंह इत्यादि लोग मौजूद रहे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.