Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    हरदोई। आचरण से नारी सशक्तिकरण का संदेश दे रही हैं तेजतर्रार सीओ शिल्पा कुमारी।

    नवनीत कुमार राम जी

    हरदोई। आचरण से दिए गए उपदेश ही प्रभावी होते हैं, इस बात का ज्वलंत उदाहरण पुलिस क्षेत्राधिकारी हरियावां शिल्पा कुमारी अपने आचरण और कार्यशैली से दे रही है। उनकी ईमानदार पुलिस अफसर की छवि के चलते अधीनस्थ पुलिस कर्मियों को भी अपना रवैया बदलना पड़ा है। लोग उन्हें मिनी 'किरण बेदी' कहने लगे हैं।

    सीओ शिल्पा कुमारी यूपीपीएससी की टापर रही है। डीएसपी पद पर 80 वी रैंक रही है। वे मूल रुप से वाराणसी की निवासी है। उन्होंने गाजीपुर से जवाहर नवोदय विद्यालय में पढ़ाई करने के बाद सेंट्रल हिंदू स्कूल गर्ल्स कॉलेज से इंटर उत्तीर्ण किया। बीटेक केमिकल इंजीनियरिंग जालंधर पंजाब से किया। 

    लड़कियों से छेड़छाड़ करने वाले शोहदों के लिए तो वे एक मुसीबत सी बन गई हैं। क्षेत्र में छोटी-छोटी घटनाओं को भी गंभीरता से लेकर स्वयं मौके पर जाकर पूछताछ करने से पीड़ित पक्ष बेझिझक अपनी व्यथा कहता है। सीओ का कहना कि  चिह्नीकरण, कानून व्यवस्था, अपराध की संवेदनशीलता के आधार पर  काम किया जाए। उनका मानना है कि पुलिस और समाज के बीच तालमेल जरूरी है। वे क्षेत्र में  जन जागरुकता अभियान चलाकर महिलाओं को जागरूक कर रही हैं। 

    सीओ  शिल्पा कुमारी ने बताया कि उनका लक्ष्य पीड़ित को न्याय दिलाना है। सीओ की ईमानदारी के चलते भ्रष्ट पुलिसकर्मी भयभीत हैं। कई दागी और भ्रष्ट पुलिसकर्मियों की छंटनी व , स्क्रीनिंग की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।सिक्के का दूसरा पहलू यह भी है कि ईमानदार , अपराध पर नियंत्रण  व विवेचनाओं को गंभीरता से  लेकर मौके पर निस्तारण करने वालों प्रभारी निरीक्षक ,उप निरीक्षक व  पुलिस कर्मियों की  सराहना भी करती हैं।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.