Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    मिश्रिख\सीतापुर। धार्मिक नगर मिश्रिख की पांडेय नगर बाजार में खुले आम चल रहा मांस का ब्यवसाय

    सुदीप मिश्रा

    मिश्रिख\सीतापुर। महर्षि दधीचि की पावन तपो भूमि कस्बा मिश्रिख हमेशा से त्याग और तपस्या का केंद्र रहा है । यहां पर स्थिति पवित्र दधीचि कुंड तीर्थ व  प्रचीन महर्षि दधीच आश्रम इस बात का गवाह है । परम तपस्वी महर्षि दधीचि ने लोक कल्याण हेतु अपनी अस्थियों तक का दान देव इंद्र आदि देवताओं को दे दिया था । सीताकुंड तीर्थ पर स्थित प्राचीन बाल्मीकि आश्रम आश्रम पर रहकर माता सीता जी ने अपने दो पुत्र लव और कुश को यहीं पर जन्म दिया था। 

    तना ही नही स्टेशन रोड के परिक्रमा मार्ग पर स्थित राम जानकी मंदिर ,  डाक बंगला के पीछे स्थित प्राचीन हनुमान गुफा मंदिर इस धार्मिक नगर के पुख्ता प्रमांण हैं। ऐसे  धार्मिक नगर में बकर कसाबों और शराब ब्यापारियों व्दारा मांस मदिरा आदि की खुले आम बिक्री की जा रही थी । इस पर प्रतिबंध लगाने हेतु स्थानीय समांज सेवी लोगों ने माननीय उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर की थी । जिस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने  इस धार्मिक नगर के 7 किलोमीटर की परिधि में मांस मंदिरा आदि मादक पदार्थों की बिक्री पर कड़ा प्रतिबंध लगा दिया था। 

    परंतु आबकारी आयुक्त के हस्तक्षेप पर सुप्रीम कोर्ट ने 7 किलोमीटर की परिधि को घटाकर 3 किलोमीटर की परिधि में मांस मदिरा आदि मादक पदार्थों की बिक्री पर कड़ा प्रतिबंध लगाया हैं । लेकिन यहां पर तैनात कस्बा इंचार्ज शैलेन्द्र सिंह कनौजिया और मांस , मछली ब्यापारियों की मिली भगत के चलते सिधौली रोड पर मोहल्ला पांडेय नगर में सोमवार , बुधवार , शनिवार को लगने वाली बाजार में बकर कसाबों और मछली ब्यापारियों व्दारा  आवासीय एरिया में खुले आम बकरे काटकर उनका मांस  और मछली आदि की दुकानों संचालन किया जा रहा है । जिससे यहां पर रहने वाले लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़  रहा है । इस लिए यहां के निवासियों ने जिला प्रशासन व प्रदेश शासन का ध्यान इस ओर आकर्शित कराते हुए ऐसे अराजक तत्वों पर कडी़ कार्यवाही करने की मांग की है ।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.