Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवरिया। पोखरे से पानी निकाल रहे किशोर की बाल्टी में फंसी भगवान राम की प्राचीन मूर्ति।

    देवरिया। जिले से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है । लगभग 50 दिन पहले भगवान श्रीराम की एक बेशकीमती प्राचीन मूर्ति मंदिर से चोरी हो गई थी । अब यह मूर्ति मिल गई है। दरअसल भगवान श्रीराम की यह बेशकीमती प्राचीन मूर्ति उस समय मिली जब एक 14 साल का लड़का बाल्टी से पोखरे में से पानी निकाल रहा था और बगल के खेत की सिंचाई कर रहा था । थाना महुआडीह के डुमरी एखलास गांव के बाहर एक पोखरा है, यहां गांव के कुछ लोग खेती कर रहे थे ,किसान इसी पोखरे में से समय-समय पर पानी निकालते हैं और सिंचाई करते हैं।मिली जानकारी के मुताबिक बीते मंगलवार को गांव का ही एक 14 साल का किशोर अविनाश राजभर खेत में सिंचाई कर रहा था ,खेत की सिंचाई करने के लिए किशोर बाल्टी लेकर पोखरे पर पहुंचा ,वह बाल्टी से पानी भरकर खेत में डाल रहा था इसी दौरान जैसे ही वह पानी लेने के लिए थोड़ा अंदर गया तभी उसे लगा कि उसकी बाल्टी को कोई खींच रहा है।  

    इस दौरान किशोर काफी डर गया और बदहवास होकर शोर मचाते हुए वहां से भाग गया। उसने ग्रामीणों को मामले की सारी जानकारी दी। मिली जानकारी के मुताबिक जब गांव वाले पहुंचे और बाल्टी को बाहर निकालने की कोशिश की तो देखा कि एक मूर्ति उसमें फंसी है। तब पता चला कि यह वही मूर्ति है जो उनके गांव के मंदिर से चोरी हो गई थी ।गांव और क्षेत्र में मूर्ति मिलने के बाद खुशी की लहर है। मामले की सूचना फौरन पुलिस को दी गई।बताया जा रहा है कि भगवान श्रीराम की मूर्ति के साथ देवी सीता और लक्ष्मण की मूर्ति भी चोरी हुई थी ।अभी तक माता सीता  और लक्ष्मण की मूर्ति नहीं मिली है।इस पूरे मामले पर थाना प्रभारी महुआडीह ने बताया कि 25 नवंबर को डुमरी एखलास गांव के मंदिर से तीन मूर्तियां चोरी हुई थी, जिसमें एक मूर्ति को बरामद किया गया है। एक लड़का बाल्टी से पानी निकाल कर बगल में लगे खेत को सींच रहा था तभी बाल्टी में मूर्ति फंस गई।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.