Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    शाहजहांपुर। टप्पेबाज गिरोह की महिला गरिफ्तार, चोरी के जेवरात नगदी व आधार कार्ड आदि बरामद।

    फै़याज़ उद्दीन\शाहजहांपुर। पुलिस अधीक्षक शाहजहाँपुर एस0 आनन्द के निर्देशन में अवैध शस्त्र निर्माण/अवैध शस्त्र रोकथाम हेतु व अपराध एवं अपराधियों की रोकथाम हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में पुलिस अधीक्षक नगर संजय कुमार के निर्देशन व क्षेत्राधिकारी सदर अमित चौरसिया के पर्यवेक्षण व थाना प्रभारी कांट जयशंकर सिंह के नेतृत्व में थाना कांट पुलिस को मिली बडी कामयाबी। 

    वादिनी मुकदमा पूनम शर्मा व उनके भाई श्यामू पाठक के सहयोग से थाना कांट की पुलिस टीम द्वारा कस्बा कांट ब्लाक गेट के पास जलालाबाद रोड शाहजहांपुर से शातिर अन्तर्जनपदीय चोर / टप्पेबाज गिरोह की महिला भाग्यवती उर्फ बलढूरी उर्फ सरिता पत्नी सुरेन्द्र निवासी दरौडा थाना दरौडा जिला रेवाडी हरियाणा हाल पता ग्राम दियूरिया झाला तेंदुआ फार्म देवी का मकान थाना पुवायां जनपद शाहजहांपुर को ब्लाक गेट के पास से गिरफ्तार किया गया जिसके कब्जे से मौके से वादिनी का एक हैण्ड पर्श जिसमें 1850 रूपये नकद, एक जोडी पायल सफेद धातु , दो अंगूठी पीलीधातु , एक चैन पीलीधातु बरामद की गयी । अभियुक्ता के विरूद्ध अभियोग पंजीकृत कर विधिक कार्यवाही की जा रही है ।   

    पूछताछ से अभियुक्ता ने बताया कि उसके यहां से गिरोह में कई महिलायें जो कि ग्राम दियूरिया झाला तेंदुआ फार्म देवी का मकान थाना पुवायां जनपद शाहजहांपुर में आकर रूकतीं हैं इसके बाद 2-3 की संख्या में रेलवे स्टेशन , बस स्टेशन व भीड़ भाड़ वाले बस स्टैण्डों पर खड़े होकर टारगेट चिन्हित करती हैं । यह लोग प्रायः उन अकेली महिलाओं को निशाना बनाती है जो कि देखने से अच्छी आर्थिक स्थिति में होती हैं और जेवर आदि पहने होती हैं या शादी व्याह से लौट रही महिलाओं को टारगेट के रूप में चिन्हित करती हैं । जैसे ही टारगेट की हुयी महिला सवारी में बैठती है तुरन्त ही यह दो-तीन की संख्या में उनके दाहिने बायें और सामने बैठकर मेल जोल बढ़ातीं हैं । गिरोह की सभी  सदस्य ठीक ठाक कपड़े में होते हैं इसलिए आम आदमी इनके टप्पेबाज/ चोर होने का शक नही करते हैं । यह लोग सवारियों से बातचीत और मेल जोड बढ़ाकर सहानुभूति हासिल कर लेते हैं फिर किसी बहाने फुटकर रूपये मांगतीं हैं और दूसरी सवारी को बातों में उलझाये रखतीं हैं और जैसे ही सवारी का ध्यान बंटता है वैसे ही यह लोग पर्स से जेवर व नगदी निकालकर अगले ठिकाने पर उतर कर चली जातीं हैं । 

    उल्लेखनीय यह है कि जो महिला चोरी करती है वह माल अपनी दूसरी साथी को दे देती है ताकि तलाशी पर उसके पास कोई वस्तु बरामद न हो । पूछताछ पर ज्ञात हुआ कि इनका ठगी /चोरी का महिलाओं का अन्तर्राज्यीय गिरोह है जो विभिन्न राज्यों तथा उत्तर-प्रदेश के कई जिलों शाहजहांपुर ,सीतापुर,लखीमपुर , हरदोई,बरेली आदि जगहों पर चोरी /टप्पेबाजी की घटना करते हैं । इस गिरोह  की गतिविधियां संचालित करने वाला व्यक्ति थाना पुवायां क्षेत्र का रहने वाला है जो कि चोरी /टप्पेबाजी की रकम में से 30-40 प्रतिशत हिस्सा लेता है । इनका नेटवर्क इतना तेज है कि पकड़े जाते ही इनका अधिवक्ता इनकी पैरवी में लग जाते हैं । गिरफ्तार महिला भाग्यवती उर्फ बलढूरी उर्फ सरिता उपरोक्त जनपद लखीमपुर व सीतापुर से इसी तरह की घटना में जेल जा चुकी है । इसके अलावा यह महिलायें ज्वैलर्स की दुकानो पर भी टप्पेबाजी की घटनाये करती है । जिस दिन इनको सवारी के रूप मे टारगेट नही मिलता है उस दिन ज्वैलर्स की दुकान पर ग्राहक बन कर जाती है और सामान खरीदने की बात कहकर ज्वैलर्स से ओर सामान दिखाने को कहती है । जैसे ही ज्वैलर्स दूसरा सामान लेने जाता है ।  इनमे से एक महिला जेवर चुरा कर भाग जाती है । ज्वैलर्स की दुकान पर जाते समय यह महिलायें अलग अलग जाती है ताकि दुकान वाला यह समझे कि यह दोनो एक साथ नही आयी है ।  

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.