Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    लखीमपुर खीरी। सड़क सुरक्षा माह : रोड़ सेफ्टी अवेयरनेस हाल में सेफ ड्राइविंग एंड गुड बिहेवियर का हुआ प्रशिक्षण।

    लखीमपुर खीरी। मुख्य सचिव, उप्र शासन से प्राप्त निर्देशों, डीएम महेंद्र बहादुर सिंह व एसपी गणेश प्रसाद साहा के मार्गदर्शन, निर्देशन में सड़क सुरक्षा के बारे में जागरूकता पैदा करने, सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के उद्देश्‍य से जनपद खीरी मे ’’सड़क सुरक्षा माह’’ मनाया जा रहा। सड़क सुरक्षा माह' अभियान कार्यक्रमों की श्रंखला में परिवहन कार्यालय के रोड़ सेफ्टी अवेयरनेस हाल में जनपद के सभी वाहन यूनियनों से आमंत्रित बस, ट्रक, टैम्पो, टैक्सी, आटो एवं ई-रिक्शा चालकों को एनजीओ-सेफ लाइफ फाउंडेशन के सहयोग से सेफ ड्राइविंग एंड गुड बिहेवियर का प्रशिक्षण हुआ। 

    उक्त के बाद एक प्रश्नकाल का आयोजन हुआ, जिसमें उपस्थित वाहन चालकों द्वारा पूॅछे गये प्रश्नों का सही उत्तर देते हुए सड़क सुरक्षा के नियमों की पूर्ण रूप से जानकारी उपलब्ध कराई। एआरटीओ आलोक कुमार सिंह ने उपस्थित चालकों, अन्य आवेदकों को रोड साइंस की जानकारी दी। उक्त कार्यक्रम में बस-ट्रक, आटो, ई-रिक्शा चालकों तथा टैक्सी यूनियन के प्रबन्धकों, पदाधिकारियों एवं वाहन स्वामियों के साथ कार्यालय स्तर पर कार्यशाला का आयोजन हुआ। उपस्थित लोगो को सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूक करते हुए सड़क सुरक्षा के नियमों की जानकारी, सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्तियों की त्वरित सहायता फर्स्ट रिस्पांडर का प्रशिक्षण दिया। सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति की सहायता करने वाले व्यक्ति/गुड सेमेरिटन को रू. पांच हजार/-की धनराशि से पुरस्कृत किये जाने की योजना बताई। 

    एआरटीओ रमेश कुमार चोबे ने उपस्थित लोगों से अनुरोध किया कि किसी भी वाहन को सड़क के किनारे स्टे न कराया जाये उनके स्टे हेतु अलग से कोई स्थान निर्धारित किया जाये, जिससे सड़क पर चलने वाले आम जन-मानस को असुविधा न हो। अन्यथा ऐसी वाहनों के विरूद्ध चालान/निरूद्ध की कार्यवाही की जायेगी। वाहन में सवारियों को निर्धारित स्थान/स्टैण्ड से चढ़ाया एवं उतारा जाये। कार्यक्रम के समापन करते हुए लोगो में पम्फलेट्स, स्टीकर्स व हैंडबिल वितरित किए।

    • एआरटीओ ने दिलाया सड़क सुरक्षा का संकल्प

    एआरटीओ रमेश कुमार चौबे ने मौजूद लोगों को सड़क सुरक्षा शपथ दिलाते हुए कहा कि ’’दो पहिया वाहन चलाते समय हमेशा हेलमेट पहनेंगे। चार पहिया वाहन चलाते समय हमेशा सीट बेल्ट पहनेंगे। तेज रफतार से वाहन नहीं चलायेंगे। लेन ड्राइविंग के नियमों का पालन करेंगे। गलत दिशा में वाहन नही चलायेंगे। वाहन चलाते समय मोबाइल फोन का प्रयोग नही करेंगे। शराब पीकर या नशें की हालत में वाहन नही चलायेंगे। सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्तियों की मद्द हेतु सदैव तत्पर रहेंगे।’’

    • इनकी रही मौजूदगी 

    उक्त कार्यक्रम में संभागीय निरीक्षक ट्रैफिक पंकज, यातायात विभाग के टीएसआई जेपी यादव, कार्यालय कार्मिक सुरेन्द्र प्रताप सिंह, राजकुमार, अंशुमान सिंह तोमर, तुषार सक्सेना, अशोक कुमार वर्मा, शिफा अंसारी, जनपद के विभिन्न वाहन यूनियनों से आये हुए लगभग 300 चालकों, प्रबन्धकों, पदाधिकारियों, कार्यालय में आने वाले समस्त आवेदक, वाहन स्वामी ने प्रतिभाग किया।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.