Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    लखीमपुर खीरी। सड़क सुरक्षा माहः एआरटीओ दफ्तर में जांच शिविर का आयोजन, प्रशासन ने जांचा चालकों का स्वास्थ्य।

    शाहनवाज गौरी

    लखीमपुर खीरी। मुख्य सचिव, उप्र शासन से प्राप्त निर्देशों के अनुपालन में सड़क सुरक्षा के बारे में जागरूकता पैदा करने और सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के उद्देश्‍य से जनपद खीरी में डीएम महेंद्र बहादुर सिंह व एसपी संजीव सुमन के मार्गदर्शन एवम निर्देशन में 04 फरवरी तक ’’ सड़क सुरक्षा माह ’’ मनाया जा रहा है। शनिवार को तय कार्यक्रम के मुताबिक सड़क सुरक्षा माह के तीसरे दिन  उप सम्भागीय परिवहन कार्यालय में स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से  चालक-परिचालकों के लिए स्वास्थ्य और नेत्र जांच शिविर का किया आयोजन हुआ, जिसमें स्वास्थ विभाग के नेत्र परीक्षण अधिकारी साजिद खाॅन, नेत्र परीक्षण अधिकारी मुकेश कुमार रस्तोगी एवं उनकी टीम द्वारा 100 से अधिक वाहन चालकों, परिवहन एवं प्रवर्तन दल के सभी कर्मचारियों करीब 50 होमगार्डों, ड्राईविंग लाइसेस हेतु आये आवेदकों तथा कार्यालय कार्मिकों का नेत्र परीक्षण किया।

    परिवहन विभाग एवं चिकित्सा विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित नेत्र कैम्प में एआरटीओ प्रशासन, आलोक कुमार सिंह, एआरटीओ प्रवर्तन रमेश कुमार चौबे, सम्भागीय निरीक्षक (प्राविधिक) पंकज, टीएसआई जेपी यादव ने प्रतिभाग किया। नेत्र परीक्षण कैम्प में उपस्थित लोगो को सड़क सुरक्षा के दृष्टिगत जागरूक करते हुए उपस्थित अधिकारियों ने जानकारी देकर जागरूक किया।

    एआरटीओ आलोक सिंह ने बताया कि सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति की मदद करने, अस्पताल पहुॅचाने वाले नेक व्यक्ति को मा. सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशानुसार पुलिस पूछताछ से सुरक्षित रखा गया है जिससे सड़क दुर्घटना में घायलों की सहायता करने हेतु लोग बिना किसी भय के आगे आ सके। साथ घायल व्यक्ति को अस्पताल पहुॅचाने पर अस्पताल में में तत्काल इलाज प्रारम्भ किया जायेगा तथा इलाज के लिए किसी भी खर्चे की माॅग नही की जायेगी।

    एआरटीओ प्रवर्तन रमेश कुमार चौबे ने कहा कि यदि वाहन स्वामी/चालक अपने वाहन से सम्बन्धित प्रपत्रों एवं ड्राईविंग लाइसेंस की हार्डकाॅपी अपने पास नही रखना चाहता है और चालान से भी बचना चाहता है, तो इसका विकल्प मौजूद है। इसके लिए डिजि लाॅकर या एम-परिवहन का प्रयोग कर सकते हैं। इन ऐप में रखे गये प्रपत्र की साॅफ्ट कापी चेकिंग के दौरान मान्य है।  

    सम्भागीय निरीक्षक (प्राविधिक) पंकज ने अवगत कराया कि शीत काल में वाहन चालक अपने वाहनों को धीमी गति एवं सुरक्षित संचालन के साथ-साथ अपने वाहनों में फाग लाइट एवं रेडियम पट्टी का प्रयोग करें जिससे स्वयं एवं मार्ग पर संचालित अन्य वाहन/यात्रियों को असुविधा न हो। खास कर गन्ना ढुलाई में लगे वाहनों(ट्रैक्टर ट्रालियों) में क्षमता से अधिक भार न लादे तथा रेडियम पट्टी एवं फाग लाइट का प्रयोग करें, जिससे सड़क दुर्घटनाओं से बचा जा सके।

    • एआरटीओ ने दिलाया सड़क सुरक्षा का संकल्प, किया जागरूक

    उक्त के पश्चात अपरान्ह में परिवहन विभाग के प्रवर्तन दल के प्रमुख एआरटीओ प्रवर्तन रमेश कुमार चौबे ने जनपद के विभिन्न मार्गो पर संचालित वाहन चालकों को खराब मौसम (कोहरे) में वाहन संचालन को किस प्रकार संचालित किया जाय, से अवगत कराकर सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूक किया। साथ ही वाहनों पर सड़क सुरक्षा सम्बन्धी स्टीकर लगाये गये तथा जनमानस में पेम्फलेट्स, स्टीकर्स व हैंडबिल वितरित किए।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.