Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। हिंसा मामले में फंडिंग के आरोप में जमानत पर रिहा हुए बाबा बिरयानी के मालिक मुख्तार बाबा ने कानपुर प्रेस क्लब में प्रेस वार्ता करी।

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। प्रेस क्लब मे अपना पक्ष रखते हुए बाबा बिरयानी के मालिक हाजी मुख्तार अहमद ने बताया कि कैसर जहां व शफीक उल्लाह और चंद लोगो ने शत्रु सम्पत्ति संघर्ष समिति फर्जी तौर पर बना रखी है जिसका कोई रजिस्ट्रेशन भी नही है,जो मुझसे उगाही करना चाहते है मै एक व्यापारी हू लेकिन ये लोग मेरे बाबा स्वीट हाउस को मंदिर कहते है और उसी मंदिर को शत्रु सम्पत्ति भी कहते है।

    दोनो चीज कैसे हो सकती है। मुख्तार बाबा ने बताया कि राम जानकी मंदिर जो कि 99/14  मे है अभी भी वही स्थित है और मेरी दुकान बाबा बिरयानी 99/ 14 ए मे, दोनो ही अलग अलग सम्पत्ति है, मुझे जबरन फसांने के लिए प्रापटी के मालिक को  पाकिस्तानी नागरिक कहा जाता है जबकि उनकी नागरिकता भारत की है और अब वे यू०के० का पासपोर्ट रखते है। उन्होंने कहा कि मुझे फर्जी तरह से फंसाया जा रहा है जो भी मेरे ऊपर मुकदमे लगाए गए है उसका कोई साक्ष्य किसी के पास भी नही है ,प्रेसवार्ता मे मोईनुद्दीन ,शिवशरण गुप्ता मौजूद रहे।

    मुख्तार बाबा

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.