Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    लखीमपुर खीरी। राष्ट्र सेवा, गुणवत्ता सचेतन समाज की स्थापना में भारतीय मानक ब्यूरो की अग्रणी भूमिका : डीएम

    ....... डीएम की अध्यक्षता में हुई भारतीय मानक ब्यूरो की संवेदीकरण कार्यशाला

    शाहनवाज गौरी\लखीमपुर खीरी। भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) के गुणवत्ता नियंत्रण सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से डीएम महेंद्र बहादुर सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में संवेदीकरण कार्यशाला हुई। कार्यक्रम का सफल संयोजन भारतीय मानक ब्यूरो लखनऊ के उपनिदेशक राजीव रंजन ने किया। डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि राष्ट्र सेवा में एवं गुणवत्ता सचेतन समाज की स्थापना में भारतीय मानक ब्यूरो अग्रणी भूमिका निभा रहा है एवं आगे भी इस प्रयास को सफल बनाने के लिए उद्योग, प्रशासन एवं उपभोक्ताओं के मध्य समन्वय बना रहा है। सरकारी खरीद में अफसर आईएसआई उत्पाद को प्राथमिकता दें। आईएसआई उत्पाद ना होने की दशा में आईएस मानक के अनुसार ही खरीददारी की जाए। आईएसआई उत्पाद की सही पहचान के लिए बीआईएस केयर एप का प्रयोग करें। 

    सीडीओ अनिल कुमार सिंह ने कहा कि भारतीय मानक ब्यूरो उत्पादों पर आई.एस.आई. मार्क, आभूषणों पर हॉलमार्क तथा इलेक्ट्रानिक वस्तुओं पर सुरक्षा से सम्बन्धित रजिस्ट्रेशन, मार्क आदि के माध्यम से उपभोक्ताओं को मानको के अनुरूप उत्तम गुणवत्ता वाले उत्पादों को पहुंचाने में सफलतापूर्वक कार्य कर रहा है। उपनिदेशक राजीव रंजन ने कहा कि भारतीय मानक ब्यूरो द्वारा मानकीकरण, उत्पाद प्रमाणन, हालमार्किंग एवं उपभोक्ता सशक्तिकरण की दिशा में मानक मंथन, हॉलमार्किंग के लिए एच.यू.आई.डी., शिक्षा संस्थानों में मानक क्लबों की स्थापना जैसे कई कदम उठाए गये हैं। उन्होंने पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से अधिकारियों को भारतीय मानक ब्यूरो गुणवत्ता नियंत्रण सुनिश्चित कराने की बारीकियां समझाई। सहायक निदेशक सचिन गुप्ता एवं प्रणयजन ने भी अधिकारियों का संवेदीकरण करते हुए उपभोक्ता हितों को उच्च प्राथमिकता देने, मानकों और गुणवत्ता के बारे में जागरूकता पैदा करने पर गहन मंथन किया।

    लखनऊ से भारतीय मानक ब्यूरो के आए अफसरों ने "नो योर स्टैंडर्ड" के जरिए अफसरों को विभिन्न उत्पादों के लिए स्टैंडर्ड खोजने, डाउनलोड करने के विषय में सभी जरूरी जानकारी दी। इस संवेदीकरण कार्यशाला में अफसरों का ज्ञानवर्धन हुआ। वर्कशॉप में डीएसओ अंजनी कुमार सिंह, डीपीआरओ सौम्यशील सिंह, ईई पीडब्ल्यूडी तरुणेंद्र त्रिपाठी, अनिल यादव, क्षेत्रीय आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी डॉ विजय प्रकाश, सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.