Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या। 2024 के मकरसंक्रांति को भगवान राम की मूर्ति की होगी प्राण प्रतिष्ठा।

    ....... अक्टूबर 2023 तक मंदिर का प्रथम तल बनकर हो जाएगा तैयारहै। 

    देव बक्स वर्मा\अयोध्या। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की धर्म नगरी  रामनगरी अयोध्या में बन रहे विश्व के सबसे दिव्य और भव्य रामलला के मंदिर को लेकर बड़ी खबर। आज से ठीक एक साल  बाद 2024 के मकरसंक्रांति को भगवान राम के बाल स्वरुप की प्रतिमा का मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी! श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय ने यह जानकारी दी! उन्होंने कहा कि अक्टूबर 2023 तक मंदिर के प्रथम तल का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा। 2024 मकरसंक्रांति तक भगवान रामलला की मंदिर के गर्भगृह में प्राण प्रतिष्ठा हो जाएगी! उन्होंने कहा कि अभी तक जो तैयारी है उसके मुताबिक प्राण प्रतिष्ठा का काम 1 जनवरी से 14 जनवरी के बीच करने की योजना है। राम नगरी के सभी 6 हाईवे पर बनने वाले प्रवेश द्वार का हुआ नामकरण। 


    मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की धर्म नगरी अयोध्या में एक तरफ जहां विकास की  गंगा बह रही है!  मार्गों को चौड़ा किया जा रहा है। अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बन रहा है ! अंतरराष्ट्रीय रेलवे स्टेशन तैयार हो रहा है।  पंचकोशी, 14 कोसी, 84 कोसी  मार्ग का प्रगति कार्य चल रहा है! रिंग रोड  बन रही है! भगवान श्री राम का भव्य मंदिर का निर्माण चल रहा है! जिसमें राम भक्त  एक साल बाद जनवरी 2024 में  भक्तों के लिए दर्शन शुरू हो जाएगा। वहीं पर राम भक्तों को आने के लिए अयोध्या को 6 मार्गों को फोरलेन से जोड़ा जाएगा! राम नगरी के सभी 6 हाईवे पर बनने वाले प्रवेश द्वार का नामकरण हो गया।शासन ने सभी प्रवेश द्वारों के तय किए नाम, रामायण कालीन होंगे प्रवेश द्वारों के नाम, 

    •    लखनऊ हाईवे पर बनने वाले प्रवेश द्वार का नाम होगा श्रीराम द्वार। 
    • गोरखपुर हाईवे पर बस्ती में बनने वाले प्रवेश द्वार पर का नाम होगा हनुमान द्वार। 
    • प्रयागराज हाईवे पर बनने वाले प्रवेश द्वार का नाम होगा भरत द्वार। 
    • अंबेडकरनगर मार्ग पर बनने वाले प्रवेश द्वार का नाम होगा जटायु द्वार। 
    • रायबरेली हाईवे पर बनने वाले प्रवेश द्वार का नाम होगा गरुण द्वार। 
    • गोंडा मार्ग पर बनने वाले प्रवेश द्वार का नाम होगा लक्ष्मण द्वार। 

    बताया गया कि सभी प्रवेश द्वार के पास यात्री सुविधाएं उपलब्ध होगी। प्रवेश द्वार बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है , रायबरेली मार्ग पर बनने वाले प्रवेश द्वार के लिए  पांच बैनामे,हुए अंबेडकरनगर मार्ग पर बनने वाले प्रवेश द्वार के लिए 6 किसानों से बनी सहमति। इस प्रकार अयोध्या में आने वाले राम भक्तों को अयोध्या पहुंचने का एहसास होगा और प्रवेश द्वार से होकर अयोध्या में प्रवेश होगा। 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.