Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    मेरठ। बेबी रानी मौर्य ने आंगनबाड़ी केन्द्र के बच्चों को न्यूट्रिशन किट प्रदान की।

    ......... सर्किट हाउस में अधिकारियों के साथ की बैठक, न्यूट्रिशयन किट पर मोदी व योगी की फोटो लगाने के दिए निर्देश। 

    मेरठ। प्रदेश की महिला कल्याण, बाल विकास सेवा एवं  पुष्टाहार मंत्री  बेबी रानी मौय ने शनिवार को सर्किट हाउस में विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में आंगनबाड़ी केन्द्र के 10 छोटे बच्चों को स्वेटर, टोपी एवं न्यूट्रीशन किट प्रदान की गयी। जिला कार्यक्रम अधिकारी विनीत कुमार सिंह ने विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी दी ।

     बैठक में विभाग की ओर से चलाई जा रही ड्राईराशन योजना के सम्बन्ध में अवगत कराया गया। उन्होंने बताया नवम्बर 2022 तक सभी 13 बाल विकास परियोजनाओं में ड्राईराशन की आपूर्ति की जा चुकी है। स्वयं सहायता समूह द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्रों पर ड्राइराशन भेजकर लाभार्थियों को प्रदान किया जा रहा है। उक्त के संदर्भ में बेबी रानी मौर्य ने निर्देश दिया कि ड्राईराशन वितरण किये जाने वाले थैलों पर प्रधान मंत्र एवं मुख्यमंत्री की फोटो छपवाकर प्रयोग में लायें।

    बेबी रानी मौर्य ने आंगनबाड़ी केन्द्र पर वजन लेकर शून्य से पांच वर्ष के अति कुपोषित, सैम एवं मैम श्रेणी के चिन्हांकित बच्चों के स्वास्थ्य के सम्बन्ध में जानकारी चाही,जिसके सम्बन्ध में जिला कार्यक्रम अधिकारी ने अवगत कराया- जनपद में सैम बच्चों की प्रोफाइल तैयार कर समस्त विवरण को अंकित करते हुए कुपोषण के कारण को चिन्हांकित किया गया एवं बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण सीएचसी,पीएचसी पर कराकर बच्चों पोषण पुनर्वास केन्द्र में भर्ती कराकर कुपाषण को दूर कराया गया। गर्भवती के स्वास्थ्य में सुधार के लिए गृह भ्रमण एवं वीएचएसएनडी पर स्वास्थ्य जॉच कराकर सुधार कराया जा रहा है।  बाल विकास सेवा एवं  पुष्टाहार मंत्री ने निर्देश दिये कि सीएसआर फन्ड/दान देने वाली संस्थाओं का चयन कर कुपोषित बच्चों को गोद दिलाकर कुपोषण को दूर करायें।

    बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के अन्तर्गत प्रचार प्रसार के पोस्टर पर गर्भवती महिलाओं को उनके खान-पान, स्वास्थ्य देख-रेख के बारे में लिखवाकर ब्लॉक कार्यालय, ब्लॉक हॉस्पिटल एवं जनपद के बड़े कार्यालयों पर लगवाने के लिए   निर्देश दिये गये। जिला कार्यक्रम अधिकारी ने अवगत कराया -कन्या सुमंगला योजना के अर्न्तगत प्रदेश में सबसे ज्यादा पात्र लाभार्थियों को लाभ दिलाने के लिए ऑनलाइन आवेदन बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग द्वारा कराये गये हैं।

    कोविड के दौरान आंगनबाडी कार्यकर्ताओं द्वारा सर्वे कर लोगों को जागरूक किया गया एवं घर-घर जाकर लाभार्थियों को पोषाहार प्रदान करते हुए नियमित रूप से बच्चों का वजन लिया गया और लोगों को कोविड से बचाव के सम्बन्ध में जागरूक करने के साथ कोविड टीकाकरण करवाया गया।  बैठक में अवगत कराया गया - जनपद के 251 आंगनवाड़ी केन्द्रों को  राज्यपाल ने केन्द्रों पर शिक्षापरक सामग्री, बच्चों के बैठने के लिए फर्नीचर, खिलौने व साज-सज्जा सामग्री (24 प्रकार) प्रदान की गयी है। माह दिसम्बर 2022 में राज्यपाल  ने ग्राम सैफपुर कर्मचन्द्रपुर, विकास खण्ड हस्तिनापुर में 10 आंगनबाड़ी केन्द्रों पर फर्नीचर, खिलौने व साज-सज्जा सामग्री सामग्री प्रदान की गयी है। 11 से 14 वर्ष की स्कूल न जाने वाली किशोरी बालिकाओं को मोटिवेट कर सामग्री आदि प्रदान कर स्कूल में प्रवेश लेने के लिए प्रेरित करने के निर्देश दिये गये।

     मंत्री बेबी रानी मौर्य ने महिला कल्याण द्वारा संचालित जिला प्रोवेशन विभाग की समीक्षा की, जिसके अन्तर्गत विधवा पेंशन, बच्चा जेल, नारी निकेतन, वन स्टॉप सेन्टर, पोक्सो एक्ट, एन्टी रोमियो स्टॉट, बाल सेवा योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, कन्या सुमंगला योजना तथा अन्य महिला सम्बन्धी कार्यक्रमों की विस्तार से समीक्षा की गई। मंत्री ने राजकीय महिला संरक्षणालय का स्थलीय निरक्षण भी किया ।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.