Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    मिश्रित/सीतापुर: विभिन्न प्रकार के प्रलोभन देकर लोगों को धर्मांतरण के प्रति किया जा आयोजन।

    मिश्रित/सीतापुर: क्रिसमस डे के अवसर पर मिश्रित कोतवाली क्षेत्र के ग्राम गौवापुरवा मजरा परसौली के एक व्यक्ति के घर पर ईसाई धर्म के हिमायतियों द्वारा एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था जिसमें धर्मांतरण कराए जाने की बात हवा में फैलते ही विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल के प्रखंड मंत्री कंचन सिंह के नेतृत्व में तमाम लोग मौके पर पहुंच गए जिससे वहां भगदड़ मच गई मुख्य लोग तो मौके से भाग निकले मामले की सूचना पुलिस को दी गई धर्मांतरण की बात पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाला वहीं दूसरी तरफ कंचन सिंह द्वारा मामले की तहरीर कोतवाली पर देकर दोषियों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज करके कार्यवाही किए जाने की मांग की गई है। 

    आरोप है कि ग्राम गौवापुरवा निवासी लवकुश और दीपू पुत्र गण राम कुमार के घर पर ईसाई धर्म परिवर्तकों द्वारा कार्यक्रम का आयोजन कराया  जा रहा था जिसमें क्षेत्र के लगभग चार-पांच सौ महिला पुरुष एकत्रित हुए थे उनके बीच ईसाई धर्म प्रचार से संबंधित पुस्तकें खजूर की पत्ती से बना प्लस चिन्ह और बाइबल आदि रखी हुई थी ईसाई धर्म का प्रचार इन लोगों के मध्य मुख्य वक्ताओं द्वारा उपस्थित महिला पुरुषों के मध्य किया जा रहा था तभी सूचना पाकर विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल के प्रखंड मंत्री कंचन सिंह अपने एक दर्जन से अधिक सहयोगीयों के साथ मौके पर पहुंच गये तो लवकुश दीपू पुत्र रामकुमार के घर के प्रांगण और छत पर मौजूद लोगों में अफरा-तफरी मच गई इसी बीच इन लोगों द्वारा पुलिस को सूचना देकर बुला लिया गया लेकिन जब तक पुलिस मौके पर पहुंचती उससे पहले वहां मौजूद सुंदरलाल मौर्य, रमेश मौर्य, नीलम मौर्य, परागी, जीतेंद्र ,विश्वनाथ आदि ने कंचन सिंह को घेर लिया और अभद्रता पर उतर आए जिसे मौके पर पहुंची पुलिस ने शांत कराया  और विश्व हिंदू परिषद तथा बजरंग दल के नेताओं और कार्यकर्ताओं को बचा कर थाने ले आई जहां सभा आयोजकों और आयोजन कर्ताओं के विरुद्ध धर्म परिवर्तन कराने की तहरीर देकर  रिपोर्ट दर्ज किए जाने की मांग की गई है ।

    मामले में पूछने पर प्रभारी निरीक्षक जितेंद्र कुमार ओझा ने बताया कि पुलिस बल मौके पर गया था तहरीर के आधार पर जांच कराकर दोषियों के विरुद्ध कड़ी वैधानिक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी विभिन्न प्रकार के प्रलोभन देकर धर्मांतरण कराना या धर्मांतरण के प्रति प्रेरित करना जघन्य अपराध है अगर सत्यता मिली तो आयोजकों और आयोजन कर्ताओं को कानूनन बख्शा नहीं जाएगा क्षेत्र में शांति व्यवस्था कायम रखना पुलिस का प्रमुख कर्तव्य है।


    संदीप चौरसिया

    Initiate News Agency (INA), तहसील मिश्रिख सीतापुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.