Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    नैमिषारण्य\सीतापुर। मछरेहटा का धंधारी जंगल बने गौ अभयारण्य : महंत संतोष दास खाकी

    ......... डीएम और एसपी को धन्यवाद पत्र देकर किया सम्मानित

    नैमिषारण्य\सीतापुर। चौरासी कोसीय परिक्रमा परिधि के अंतर्गत मिश्रिख मछरेहटा मार्ग पर स्थित धंधारी जंगल को धेनु अभयारण्य बनाया जाए । इससे आस पास के किसानों आवारा पशुओं से मुक्ति मिलेगी और गायों के संरक्षण मिलेगा, यह बातें जिलाधिकारी अनुज सिंह से भेंट के बाद बनगढ़ महंत संतोष दास खाकी ने मीडिया से कही ।

    सोमवार को नैमिष तीर्थ के साधु संतों और ब्राह्मणों ने जिलाधिकारी अनुज सिंह और पुलिस अधीक्षक घुले सुशील चंद्रभान से भेंट की । चौरासी कोसीय परिक्रमा समिति के सचिव बनगढ़ महंत संतोष दास खाकी के नेतृत्व में साधु संतों ने श्री नैमिषारण्य धाम तीर्थ विकास के गठन होने पर धन्यवाद पत्र और अंगवस्त्र देकर धन्यवाद ज्ञापित किया । महंत द्वारा चौरासी कोसीय परिक्रमा की समस्याओं पर जिलाधिकारी अनुज सिंह ने कहा कि वह शीघ्र ही अधिकारियों के साथ पड़ावों का निरीक्षण करेंगे और आपके सुझावों पर ध्यान दिया जाएगा । हम चाहते हैं कि तीर्थ विकास के दौरान यहां के मूल स्वरूप को संरक्षित करने का काम किया जाना चाहिए। 

    पुराने मंदिरों को तोड़कर नया बनाने के स्थान पर उन्हें ही मरम्मत कर मूल स्वरूप को बनाए रखा जाए । इसकी पहचान यहां के मठ, मंदिर, यहां की वन संपदा, साधु संत, तीर्थ पुरोहित हैं इनके मूल स्वरूप को न बिगाड़ा जाए । इस मौके पर मुल्लाभीरी महंत अंजनी दास, प्रस्तावक विमल मिश्र, मीडिया प्रभारी सुनीत पांडेय, पंडित विवेक शास्त्री, गौरी शंकर शुक्ला मौजूद रहे ।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.