Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद: मदरसा असगरिया के मोहतमिम का इंग्लैंड में इंतकाल

    --तबलीगी जमात के सिलसिले में गए थे इंग्लैंड,पेट में इंफेक्शन के चलते बर्मिंघन शहर के अस्पताल में कराया था भर्ती


    देवबंद: इस्लामी तालीम के बड़े इदारे मदरसा असगरिया के मोहतमिम डॉ. सैयद जमील हुसैन मियां देवबंदी का इंग्लैंड में इंतकाल हो गया।वह तबलीगी जमात से जुड़े थे और करीब एक सप्ताह पूर्व इंग्लैंड गए थे।उनके इंतकाल से इस्लामिक हल्कों में शोक की लहर दौड़ गई।

    उलमा ने दुख का इजहार करते हुए उनके इंतकाल को इस्लामी जगत के लिए बड़ी क्षति बताया।मोहल्ला किला निवासी डॉ. सैयद जमील हुसैन मियां देवबंदी भायला रोड स्थित मदरसा असगरिया के मोहतमिम थे।वह तबलीगी जमात से जुड़े थे और इसी सिलसिले में एक सप्ताह पूर्व इंग्लैंड गए थे।

    उनके साथ मौजूद बेटे डॉ. सैयद तजम्मुल हुसैन ने बताया कि शनिवार को उन्हें पेट में इंफेक्शन के चलते इंग्लैंड के शहर बर्मिंघन के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था।जहां रविवार को उनका इंतकाल हो गया।उन्होंने बताया कि उनके पार्थिव शरीर को भारत ला पाना मुमकिन नहीं था इसलिए इंग्लैंड में ही उनको सुपूर्द-ए-खाक किया जाएगा।वहीं,सैयद जमील हुसैन के इंतकाल की खबर से इस्लामिक हल्कों में शोक की लहर दौड़ गई।

    दारुल उलूम के मोहतमिम मौलाना मुफ्ती अबुल कासिम नोमानी, नायब मोहतमिम अब्दुल खालिक मद्रासी, दारुल उलूम वक्फ के मोहतमिम मौलाना सुफियान कासमी सहित मौलाना अहमद खिजर शाह मसूदी, पूर्व विधायक माविया अली, मुफ्ती शरीफ खान कासमी, मौलाना शकेब कासमी, कारी इस्हाक गोरा, मुफ्ती असद कासमी, अधिवक्ता नसीम अंसारी, खालिद हसन, मुमताज अहमद आदि ने गहरे दुख का इजहार किया है।


    शिबली इकबाल

    Initiate News Agency (INA), देवबंद



    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.