Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बाराबंकी। नहर कटान से दर्जनों किसान की जलमग्न हुई फसल।

    बाराबंकी। सिंचाई विभाग की नहर सफाई में बरती गई अनियमितता के कारण मसौली थाना क्षेत्र में मेंढिया गांव के दर्जनों किसान बर्बादी की कगार पर पहुंच गए। बीती रात अमदहा माइनर कट जाने से 50-60 बीघा किसानों के खेतों में खड़ी आलू, गेहूं, सरसों आदि फसल पानी से डूब गई है। सूचना पर गुरुवार को 12 बजे अपरान्ह करीब  जेई बद्री प्रसाद ने पहुंचकर मरम्मत कार्य शुरू कराया।मसौली रजबहा से निकली अमदहा माइनर में मेढिया होकर किसानों के खेतों तक पानी जाता है। परन्तु सफाई में बरती गई अनियमितता के चलते आगे पानी पूर्ण रूप से नही जा रहा था जिससे जबरा हार के करीब पानी अधिक होने के कारण माइनर  कट गई। जिसके कारण ग्राम मेढिया निवासी किसान बालेराम की  सरसों 2 बीघा, दिनेश की सरसों 5 बीघा,पवन की सरसों  5 बीघा, महेश का  आलू 6 बीघा,राम भजन की  सरसों 2 बीघा, संजीव की सरसों 3 बीघा सहित दर्जनों किसानों की खेत में लगी खड़ी फसल पानी में डूब गई है। जिससे किसानों को काफी नुकसान हुआ है। जब किसान खेत के लिए निकले तो माइनर कटी देखकर हड़कंप मच गया। माइनर कटने की सूचना ग्रामीणों ने विभागीय अधिकारियों को दिया। गुरुवार को 12 बजे के करीब माइनर मरम्मत कार्य शुरू किया गया।तब किसानों ने राहत की सांस ली।


    बीते दिनों जब सिंचाई विभाग ने नहरों की सफाई आरम्भ की तो विभागीय मिलीभगत के कारण ठेकेदारों द्वारा निर्धारित मानक के अनुसार कार्य नही किया गया। जिसका  खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ रहा है। हद्द तो यहां पर हो गई कि अमदहा माइनर की मेंढिया गांव से पक्के नाले तक लगभग 500 मीटर नहर की  पूर्ण रूप से न तो  सफाई की गई और न ही पटरी मरम्मत का कार्य किया गया।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.