Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बिजनौर। अधेड़ को जिंदा जलाने के मामले में प्रेमिका सहित तीन गिरफ्तार।

    रिपोर्ट: दिनेश कुमार प्रजापति जनपद बिजनौर 

    बिजनौर। स्वर सर्विलांस टीम वे थाना कोतवाली नगर पुलिस द्वारा एक अधेड़ व्यक्ति को कार में डालकर जिंदा जलाने का प्रयास करने वाले तीन शातिर अभियुक्त गाना घटना में प्रयुक्त सैंटरो कार स्कूटी एक पिस्टल 13 लाख ₹50000 तथा अन्य असली फर्जी कागजात सहित गिरफ्तार।

    दरअसल यह पूरा मामला जनपद बिजनौर के कोतवाली के सिरधनी मार्ग पर अधेड़ को कार में डालकर जिन्दा जलाने के मामले में पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर 30 अक्टूबर की अर्धरात्रि में बेगावाला रोड पर मुजफ्फरपुर केशो के पास घेराबंदी करते हुवे घटना में प्रकाश में आये अभियुक्त सुशील गुप्ता,लालबहादुर सैनी उर्फ पिन्टू व रानी को पुलिस द्वारा तेरे लाख ₹50000 नगद व 35 चैक,1 पिस्टल 32 बोर मय पांच जिंदा कारतूस, पीली धातु के 3 जोड़ी कानों के बुंदे एक पीली धातु का मंगलसूत्र स्वार्थ आधार कार्ड तीन एटीएम कार्ड दो पैन कार्ड दो निकाहनामा वोटर आईडी कार्ड रजिस्टर आदि सहित गिरफ्तार किया है।

    अभियुक्त सुशील गुप्ता द्वारा पूछताछ में बताया कि रानी जो पिछले काफी समय से उसके गन्ना क्रेशर पर काम करती थी इसी दौरान उसका रानी के साथ प्रेम प्रसंग हो गया तथा रानी उसके साथ रहने लगी थी क्योंकि रानी का अपने पति राशिद से तलाक हो गया था करीब 2 साल से उसका काम ठीक-ठाक नहीं चल रहा था इसी कारण उसे कारोबार में घाटा होने लगा था, उसने करीब पौने दो करोड़ रुपए का बैंकों से कर्जा ले लिया,  उसने व उसके साथी लाल बहादुर सैनी उर्फ पिंटू व रानी ने आपस में सलाह मशवरा किया कि बैंकों का कर्जा कैसे उतारा जाए और उसका रानी का प्रेम प्रसंग भी बना रहे, बैंक का कर्ज उतारने के लिए तीनों ने बैंक को धोखा देने की योजना बनाई और अपना व रानी  का फर्जी आधार कार्ड बनवा लिया, इन्हीं फर्जी आधार कार्डो का असल के रूप में प्रयोग करते हुए तीनों ने योजना बनाई कि अगर हम किसी व्यक्ति को अपनी जगह रख कर मार दे तो सुशील गुप्ता मरा हुआ घोषित हो जाएगा तथा उसके बीमा का सारा पैसा उसके परिवार को मिल जाएगा,योजनाबद्ध तरीके से 29 अक्टूबर 2022 को वह अपनी सेंट्रो कार व उसका साथी पिंटू अपनी स्कूटी से रोडवेज बस स्टैंड चांदपुर पर आए जहां उसे पुराना परिचित मदन सिंह निवासी मिर्जापुर बकैना नशे की हालत में मिला, जिसको उन्होंने और शराब पिलाई तथा नशे की हालत में उसे अपनी गाड़ी में डाल लिया। वह अपनी सेंट्रो गाड़ी से मदन सिंह को लेकर तथा पिंटू अपनी स्कूटी से पीछे-पीछे चांदपुर की चुंगी से सिरधनी रोड पर आ गए, गाड़ी को सड़क के किनारे खड़ी करके मदन को ड्राइवर सीट पर बैठा कर अपने मोबाइल फोन गाड़ी मिल ही छोड़ दिया और सीट बेल्ट लगा दी, जिससे कि वह गाड़ी से निकल ना सके तथा मदन सिंह को तेल छिड़ककर आग लगा दी, व खिड़की बंद करके गाड़ी स्टार्ट छोड़कर दोनों स्कूटी से मौके से भाग गए। पुलिस ने पकड़े गए तीनो आरोपीयो को जेल भेज दिया है।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.