Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या। श्रीराम जन्मभूमि परिसर के आसपास 300 मीटर के दायरे तक बहुमंजिला कोई नया और ऊंचा भवन नहीं बनाया जाएगा।

    देव बक्स वर्मा 

    अयोध्या। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की धर्म नगरी अयोध्या में श्रीराम का भव्य  मंदिर निर्माण का कार्य काफी तेज गति के साथ  चल रहा है! मंदिर का निर्माण दिसंबर 2023 तक पूरा हो जाएगा और जनवरी 2024 में भगवान राम केभव्य मंदिर के  गर्भ ग्रह में भगवान श्री राम विराजमान हो जाएंगे! राम मंदिर के निर्माण के साथ अयोध्या का चौमुखी विकास हो रहा है मंदिर निर्माण के पूर्व अंतर्राष्ट्रीय श्रीराम एयरपोर्ट  एयरपोर्ट  भी बनकर तैयार हो जाएगा और अयोध्या आने वाले राम भक्तों को अयोध्या के सीमा में प्रवेश करने से पहले यह अनुभव हो जाएगा कि अयोध्या पहुंच गए हैं। 

    अयोध्या की सड़कों को बड़ी तेजी के साथ राम भक्तों के लिए चौड़ा किया जा रहा है! और देश के कोने कोने से रेल मार्ग से भी आने वाले राम भक्तों की सुविधा के लिए पूरी व्यवस्था किया जा रहा है! नव्य  अयोध्या का विस्तार हो रहा है। मंदिर निर्माण के साथ-साथ की सुरक्षा को देखते हुए विकास प्राधिकरण ने रामनगरी और उसके आस-पास के क्षेत्रों में होने वाले नव निर्माण को लेकर नए नियम लागू कर दिए हैं। विकास प्राधिकरण ने राम जन्मभूमि के आसपास के क्षेत्र में  निषेधाज्ञा लागू कर दिया है! नई नियमावली के अंतर्गत 100 मीटर की परिधि में किसी भी तरीके के नए निर्माण को लेकर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया गया है!  विशेष परिस्थितियों के लिए 5 सदस्यीय टीम गठित की गई है! जो इस पूरे क्षेत्र का सर्वे करेगी और अपनी रिपोर्ट देगी पुराने भवन को जिला प्रशासन से अनुमति लेने के बाद हेरीटेज के स्वरूप में विकसित किया जाएगा! राम जन्मभूमि परिसर से 300 मीटर के क्षेत्र में बहुमंजिला इमारत (7:50 मीटर से 15 मीटर ऊंचे) भवन का निर्माण नहीं हो सकेगा!

     करोड़ों लोगों की आस्था का केंद्र अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बन रहा है! इसी वजह से राम मंदिर के आसपास के मंदिर को देखते हुए सुरक्षा तथा पर्यटन की दृष्टि से नई नियमावली बनाई गई है! इसमें राम जन्मभूमि परिसर से 300 मीटर के दायरे तक कोई नया  भवन नहीं बनाया जाएगा! मंदिर की अंतिम सीमा के बाद 100 मीटर की परिधि पर निर्माण के लिहाज से निषेधाज्ञा लागू होगी, तो वही 200 मीटर का क्षेत्रफल भी नियंत्रण सीमा में रहेगा! 

    इस प्रकार अयोध्या को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्थापित करने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं! सुरक्षा की दृष्टि से व्यापक बंदोबस्त किया जा रहा है! बाहर से आने वाले लाखों लाख श्रद्धालुओं के लिए मार्ग के चौड़ीकरण का काम चल रहा है! राम भक्तों के रुकने के लिए पूरी व्यवस्था किया जा रहा है। 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.