Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    श्रावस्ती: जनपद के पूर्व जिलाधिकारी/मुख्य अतिथि टी0पी0 पाठक की अध्यक्षता में ’’सुशासन सप्ताह-प्रशासन गांव की ओर’’ का हुआ आयोजन

    ---अब गांवों को भी शहरों की तर्ज पर किया जा रहा है, विकसित-पूर्व जिलाधिकारी/टी0पी0 पाठक

    --जनता की समस्याओं का स्थानीय स्तर पर निदान ही ’’सुशासन सप्ताह’’ का है उद्देश्य-जिलाधिकारी


    श्रावस्ती: आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार 19 दिसम्बर, 2022 से 25 दिसम्बर, 2022 तक ’’सुशासन सप्ताह-प्रशासन गांव की ओर’’ मनाया जा रहा है। जिसके अर्न्तगत सप्ताह के पांचवे दिन शुक्रवार को कलेक्ट्रेट स्थित तथागत हाल में सुशासन प्रथाओं/नवाचारों पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया है। जिसमें मुख्य अतिथि जनपद श्रावस्ती के पूर्व जिलाधिकारी/से०नि० आई0ए0एस0 टी०पी० पाठक, जिलाधिकारी नेहा प्रकाश, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0)डी0पी0 सिंह एवं अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) सन्तोष कुमार यादव सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगणों ने द्वीप प्रज्वलित कर कार्यशाला का शुभारम्भ किया।

    इस अवसर पर जिले के पूर्व जिलाधिकारी/कार्यक्रम के मुख्य अतिथि/से0नि0 आई0ए0एस0 अधिकारी श्री पाठक जी ने अपने सम्बोधन में कहा कि आज कई वषो बाद मुझे इस जिले में आने का अवसर पर प्राप्त हुआ है। मैने देखा कि उस समय और आज के समय में विकास के क्षेत्र में काफी बदलाव देखने को मिला है। उस दौर में बेहतर संसाधन उपलब्ध नहीं थे। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सम्बन्धी सुविधाओं का अभाव था। किसानों के खाद बीज पानी विद्युत आदि की समस्याएं भी थी। 

    पहले जब मैं गांव का दौरा करता था, तो गांव-गलियारों के मार्ग सुगम नहीं थे। आज के समय में जनपद श्रावस्ती में काफी विकास देखने को मिला है। सरकार द्वारा गांवों को भी शहर की तर्ज पर विकसित किया जा रहा है, जहां सड़क, बिजली-पानी, स्वास्थ्य व संचार माध्यम का बेहतर सामंजस्य देखने को मिल रहा है। वहीं शिक्षा क्षेत्र में भी गुणात्मक सुधार किये गये है, जहां नई शिक्षा नीति के तहत बच्चों के लिए स्मार्ट क्लासेस भी अब संचालित हो रहे है।  

    उन्होने यह भी कहा कि देश एवं प्रदेश सरकार के मंशानुसार ‘आज़ादी का अमृत महोत्सव’ के अन्तर्गत ’’सुशासन सप्ताह-प्रशासन गांव की ओर’’ मनाया जा रहा है, जिसका उद्देश्य जनता की शिकायतों का निस्तारण करना और ग्रामीण स्तर तक सेवा वितरण में सुधार करना है। इस सप्ताह के दौरान नियोजित कार्यक्रमों की श्रृंखला का उद्देश्य केंद्र द्वारा विभिन्न सुशासन पहलों को जनता के सामने लाना है।

    इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि जनता की समस्याओं का स्थानीय स्तर पर समाधान करना ही ’’सुशासन सप्ताह’’ का मुख्य उद्देश्य है। इस अभियान के माध्यम से आम जनता की समस्याओं का त्वरित रूप से मौके पर ही समाधान कराया जा रहा है। इससे एक ओर जहां जन समस्याओं का समाधान किया जा रहा है, वहीं दूसरी ओर जनता और सरकार के बीच बेहतर समन्वय स्थापित होगा। 

    इसके लिए सभी अधिकारियों को पूर्व से ही निर्देशित किया गया है कि सभी अधिकारी अपने-अपने कार्यालय में उपस्थित रहकर जनसमस्याओं को सुनकर उनका निस्तारण करें। उन्होने कहा कि सभी के सहयोग से सुशासन सप्ताह को और बेहतर बनाकर आगे भी ऐसे संचालित किया जाएगा। जिससे जनसमस्याओं का त्वरित रूप से निराकरण किया जा सके। उन्होने जनपद वासियों से अपील करते हुए कहा कि 25 दिसम्बर, 2022 तक ’’सुशासन सप्ताह-प्रशासन गांव की ओर’’ के अन्तर्गत तहसील एवं ग्राम पंचायत स्तर पर आयोजित होने वाले विशेष कैम्पों में प्रतिभाग कर अपनी समस्याओं का समाधान प्राप्त कर सकते हैं।

    इस दौरान जनपद के नवाचार एवं विजन-2047 को भी प्रदर्शित किया गया। कार्यक्रम के समापन में अपर जिलाधिकारी(वि0/रा0), अपर जिलाधिकारी (न्यायिक), प्रभागीय वनाधिकारी ए0पी0 यादव एवं समस्त उपजिलाधिकारीगणों ने मुख्य अतिथि को भगवान बुद्ध की प्रतिमा भेंटकर सम्मान किया। अन्त में अपर जिलाधिकारी(वि0/रा0) ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम के दौरान सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा ’’उत्तर प्रदेश सन्देश’’ नामक प्रचार साहित्य का भी वितरण किया गया।

    इस अवसर पर उपजिलाधिकारी क्रमशः भिनगा प्रवेन्द्र कुमार, इकौना रोहित, जमुनहा सौरभ शुक्ला, उपजिलाधिकारी आर0पी0 चौधरी, उपजिलाधिकारी आशुतोष, पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रशिक्षु सतीश चन्द्र शर्मा, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 एस0पी0 तिवारी, जिला विकास अधिकारी रामसमुझ, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 विनोद कुमार, डी0सी0एन0आर0एल0एम0, उप निदेशक कृषि कमल कटियार, जिला कृषि अधिकारी अवधेश यादव, जिला पूर्ति अधिकारी, भूमि संरक्षण अधिकारी शिशिर वर्मा, सहायक निदेशक मत्स्य सुरेश कुमार, जिला सूचना अधिकारी शिवनाथ, जिला उद्यान अधिकारी दिनेश चौधरी, जिला ग्रामोद्योग अधिकारी रोशन लाल पुष्कर, ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर शरद श्रीवास्तव, जिलाधिकारी के आशुलिपिक चन्द्रमौली श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी के आशुलिपिक के0के0 वैश्य, नाजिर अनूप तिवारी, आपदा विशेषज्ञ अरूण कुमार मिश्र सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारीगण एवं भारी जनसैलाब उपस्थित रहा।



    सर्वजीत सिंह

    Initiate News Agency (INA), श्रावस्ती यूपी

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.