Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। प्रतिनिधि मंडल से मुलाकात के बाद व्यापारी संजय गुप्ता के मामले में कमिश्नर ने तत्काल गिरफ्तारी के आदेश दिए।

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। बर्रा में सूदखोरों के उत्पीड़न के कारण आत्महत्या कर चुके व्यापारी संजय गुप्ता के मामले में आज पुलिस कमिश्नर ने अक्रामक रुख अपनाते हुए दोषियों की तत्काल गिरफ्तारी का निर्देश दिया।आज उत्तर प्रदेश प्रांतीय व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता व भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ के कानपुर बुंदेलखंड के क्षेत्रीय सह संयोजक विनोद गुप्ता के नेतृत्व में मृतक व्यापारी संजय गुप्ता की पत्नी वर्षा,बेटी भाव्या और परिजन पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड से कार्यालय में मिले और पुलिस के संवेदनहीन रविए की शिकायत करते हुए आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग करी जिस पर पुलिस कमिश्नर ने फोन पर तत्काल एसीपी गोविंद नगर व बर्रा एसएचओ को आरोपियों की गिरफ्तारी का निर्देश दिया।साथ ही अभिमन्यु गुप्ता और शेषणारायण त्रिवेदी ने कमिश्नर से मांग करी की सूदखोरी के खिलाफ पुलिस अभियान व अपील चलाए जिस पर भी कमिश्नर ने  तत्काल अभियान शुरू करने के निर्देश दिए।

    सूदखोरों द्वारा लगातार उत्पीड़न व मारपीट से परेशान होकर संजय गुप्ता ने 9 नवंबर को आत्महत्या कर ली थी।इलाकाई दबंग सूदखोरों को मुकदमे के बाद भी पुलिस गिरफ्तार नहीं कर रही थी और जांच का हवाला दे रही थी।पीड़ित परिवार को बर्रा एसएचओ ने कहा की 6 महीने बाद कार्यवाही होगी।इस घटना से और पुलिस की संवेदनहीनता से व्यापारी व वैश्य समाज में भयंकर आक्रोश है।सबकी मांग है की आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए। पुलिस कमिश्नर ने अक्रामक रुख अपनाते हुए तत्काल गिरफ्तारी के आदेश दिए।उत्तर प्रदेश प्रांतीय व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता ने कहा की संजय गुप्ता ने आत्महत्या नहीं की बल्कि उनकी हत्या हुई है।व्यापारी समाज में विश्वसनीयता का माहौल बनाए के लिए दोषियों की तत्काल गिरफ्तारी जरूरी है।सूदखोरों पर सख्त कार्यवाही और लगाम लगने की जरूरत है।अभिमन्यु ने पुलिस कमिश्नर से सूदखोरी के खिलाफ अभियान चलाने की मांग की जिसको पुलिस कमिश्नर ने माना और अभियान चलाने का निर्देश दिया।

    भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ के क्षेत्रीय सह संयोजक कानपुर बुंदेलखंड क्षेत्र और वरिष्ठ व्यापारी नेता विनोद गुप्ता ने कहा की व्यापारी समाज इस घटना से बेहद आहत है।कानपुर में सूदखोरी की कई घटनाएं सामने आ रही हैं।पुलिस को सख्त कार्यवाही करनी चाहिए।आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी होनी चाहिए।विनोद गुप्ता ने कहा सूदखोरों की वजह से एक परेशान व्यापारी की आत्महत्या पूरे समाज के लिए कलंक है।मृतक संजय गुप्ता की पत्नी वर्षा गुप्ता ने कहा की आवश्यक है की सूदखोरी जड़ से समाप्त हो जाए।जो मेरे परिवार के साथ हुआ किसी और के साथ न हो। पीड़ित परिवार के साथ अभिमन्यु गुप्ता,विनोद गुप्ता,शेषणारायण त्रिवेदी,संजय त्रिवेदी,विजय गुप्ता,उमा कठेरिया,अमित चढ्ढा,काले खान,प्रदीप तिवारी आदि थे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.