Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। गंगा वाटर रैली,कानपुर से प्रयागराज तैयारी हेतु नदी मार्ग के रेकी दल अटल घाट से रवाना।

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। गंगा वाटर रैली की तैयारी तथा नदी मार्ग के सर्वे के लिए , आयुक्त कानपुर मंडल डाक्टर राजशेखर ने हरी झंडी दिखाकर रेकी दल को रवाना किया।इस अवसर पर पुलिस उपायुक्त विजय ढुल, मुख्य वन संरक्षक, आयुक्त शिव शर्राप्पा मुख्य विकास अधिकारी सुधीर कुमार, समन्वयक तथा सचिव नीरज श्रीवास्तव , अपर जिलाधिकारी वित्त ज्वाइंट मजिस्ट्रेट,तथा सिंचाई विभाग के अधिकार मौजूद रहे।

    इस अवसर पर आयुक्त डाक्टर राजशेखर ने बताया कि।कानपुर से प्रयागराज तक कि प्रस्तावित रैली का मुख्य उद्देश्य प्राकृतिक गंगा नदी हैबिटेट का संरक्षण,गंगा नदी तट पर रोमांचक नदी पर्यटन का विकास  को बढ़ावा देना है। कानपूर बोट क्लब के प्रस्तावित उद्घाटन कार्यक्रम के साथ , नवंबर के चतुर्थ सप्ताह मे प्रस्तावित गंगा वाटर रैली कानपुर से प्रयागराज के आयोजन से पूर्व कानपुर से प्रयागराज तक नदी मार्ग के सर्वे तथा समस्त मध्य मार्गिय जनपदों के गंगा तटों पर रैली के आगमन स्थलों में आयोजनों के लिए आवश्यक व्यवस्थाओं का निरीक्षण हेतु एक रेकी दल गंगा नदी के रास्ते ,जिसमे सैतीसवी वाहिनी पी ए सी कानपुर के प्लाटून कमांडर वीरेंद्र कुमार ,,शिव कुमार,सत्य प्रकाश, संतोष कुमार तथा बीसवीं वाहिनी पी ए सी आजमगढ़ के प्लाटून कमांडर राम निरंजन तथा उत्तर प्रदेश कयाकिंग कनोइंग एसोसिएशन के धवन कुशवाहा साथ चल है। 

    दूसरा रेकी दल सड़क मार्ग से रवाना हुआ जिसका नेतृत्व , देव पाल सिंह, सचिव उत्तर प्रदेश कयाकिंग कनोइंग एसोसिएशन तथा बोट क्लब अधिकारी प्रयागराज कर रहे हैं। कानपुर के विकास कार्यों के समन्वयक और कानपुर बोट क्लब के सचिव नीरज श्रीवास्तव ने बताया गंगा वाटर रैली जिसमे लगभग 50 खिलाड़ी प्रतिभागी तथा लगभग 30 अन्य टीम मैनेजर इत्यादि होंगे। गंगा वाटर रैली, पहला पड़ाव बक्सर जिला उन्नाव, दूसरा पड़ाव, डलमऊ जिला रायबरेली, तीसरा पड़ाव कालाकांकर जिला प्रतापगढ़, चौथा पड़ाव श्रृंगवेरपुर जनपद प्रयागराज पांचवां अंतिम पड़ाव प्रयागराज बोट क्लब प्रयागराज होगा।

    पांच दिवसीय गंगा रैली के आयोजन से पूर्व नदी मार्ग का सर्वे आवश्यक होता है इसमें नदी के रास्ते गंगा धारा का रूट,पानी का बहाव , पानी की गहराई,और प्रत्येक सेक्शन के बीच में अल्प विश्राम के स्थल देखे जायेंगे।

    सड़क मार्ग से जाने बाला रेकी दल, प्रत्येक जनपद के पड़ाव मे रैली दल तथा अधिकारियों, तकनीकी दल के रुकने का,स्थल सांस्कृतिक कार्यक्रमआयोजन स्थल तथा व्यवस्थाएं, नदी तट की सफाई, सड़क से घाट के मार्ग की स्थिति इत्यादि देखेगे।

    डाक्टर राजशेखर ने बताया कि,मध्य मार्गिया जनपद उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़, तथा प्रयागराज जनपदों के जिलाधिकारियों ने अपने अपने जनपद के संबंधित उपजिलाधिकारी,तथा पुलिस क्षेत्राधिकारी को निर्देश दे दिए हैं, उन्होंने बताया की, जिलाधिकारियों से समन्वय नीरज श्रीवास्तव कर रहे हैं।

    उन्होंने बताया कि सभी जनपदीय अधिकारियों से समन्वय हो गया है संबंधित अधिकारी रेकी दल के आगमन पर घाट पर उपस्थित रहेंगे और सभी अपेक्षित व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करेंगे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.