Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बलिया। अधीक्षण अभियंता विद्युत वितरणमंडल पर कर्मचारियों पर उत्पीड़न का आरोप।

    रिपोर्ट-सै० आसिफ हुसैन ज़ैदी

    खास खबर बलिया से है जहां विद्युत मजदूर पंचायत की स्थानीय इकाई  के सदस्यों ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए जिला धिकारी कार्यालय पहुंचकर जिला प्रशासन को संबोधित  ज्ञापन सौंपा।

    विद्युत कर्मचारी नेताओं का आरोप है कि अधीक्षण अभियंता आर.के जैन ने तुगलकी फरमान जारी करके राम बहादुर राय जेई को निलंबित कर दिया गया । उनकी वापस कर तैनाती सुनिश्चित की जाए और संविदा कर्मियों के इपीएफ का जल्द भुगतान किया जाए । विद्युत कर्मचारी नेता रामा शंकर पांडेय ने आरोप लगाते हुए कहा कि  2 महीने की रेवेन्यू तैनाती में निलंबित कर दिया गया, जबकि डीएम को भी शुरू कि तैनाती में वहां कि भौगोलिक  स्थिति जानने के लिए कुछ समय लगता है ।

    रमाशंकर पांडेय नेता पेंशनर संघ

    ऐसे ही भूल प्रबंधन के तुगलकी फरमान ने प्रदेश में लगभग 25 जेईयों को निलंबित कर दिया गया है। पांडेय ने आरोप लगाया  कि  अधीक्षण अभियंता  विद्युत आरके जैन अवैध धन उगाई करना चाहते हैं। पांडेय यहीं नहीं रुके अपने आरोपों की झड़ी लगाते हुए कहा कि संविदा कर्मचारियों के ईपीएफ में घोटाला हुआ है और जब हम लोग इपीएफ का हिसाब मांग  रहे हैं तो वे मुख्यालय छोड़कर भाग जा रहे हैं। इन नेताओं ने सीधे आरोप लगाते हुए कहा कि इपीएफ में घोटाला  हुआ है। तभी S.E साहब हिसाब देने से भाग रहे है।

    एसपी साहब की तैनाती पहले शक्ति भवन में समीक्षक थे और वहां से आए हैं और रिटायरमेंट के करीब है। इस लिए अवर अभियंताओं पर अवैध वसूली करने का दबाव बना रहे हैं।

    राम बाबू राय- विद्युत मजदूर पंचायत पूर्वांचल संगठन मंत्री

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.