Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गाजीपुर। मुख्तार अंसारी या किसी भी माफिया पर कानूनी कार्यवाही होती रहेगी, योगी सरकार की बुलडोजर नीति सबको पसंद:- दानिश आज़ाद अंसारी ( मंत्री)

     रिपोर्ट-  महताब आलम

    • यूपी नगर निकाय चुनावों में अल्पसंख्यकों को भी मिलेगा मौका।
    • विपक्ष नहीं चाहता कि मुसलमान तरक्की करे, पिछली सपा सरकार ने मुसलमानों का इस्तेमाल किया।
    • मदरसों और वक़्फ़ की कोई जांच नहीं हो रही है, गैर मान्यता प्राप्त मदरसों का हो रहा है सर्वे।
    • किसी दीनी पढ़ाई में कोई तब्दीली नही हुई है, बल्कि सरकार चाहती है कि बच्चे उर्दू, हिंदी, अरबी के साथ इंग्लिश भी जानें।

    खबर गाजीपुर से है जहां उत्तर प्रदेश सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री दानिश आजाद अंसारी आज मंत्री बनने के बाद जनपद के प्रथम दौरे पर थे, इस अवसर पर उन्होंने भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में संवाद कार्यक्रम में हिस्सा लिया और जिलाध्यक्ष गुलाम कादिर रायनी के साथ उनके आवास पर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की, और यूपी तक से खास बातचीत में उन्होंने खुलकर बातचीत की, उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अल्पसंख्यकों के लिए चल रही योजनाओं पर चर्चा की और उसे हितकारी बताया। वहीं उन्होंने मदरसों वक़्फ़ बोर्ड की संपत्तियों के जांच पर स्पष्ट रूप से कहा कि उत्तर प्रदेश के मदरसों में कोई भी जांच नहीं चल रही है। 

    उन्होंने कहा कि मदरसों की बेहतरी के लिए सर्वे जरूर चल रहा है, और वो नियमानुसार नहीं चल रहे मदरसों के लिए है, उन्होंने साफ किया कि 11 बिंदु का सर्वे है और वह मदरसों की बेहतरी के लिए किया जा रहा है, उन्होंने साफ किया कि किसी भी दीनी पढ़ाई के कोर्स में छेड़छाड़ नहीं की गई है, हां उसमें आधुनिक शिक्षा को भी जोड़ा गया है। उन्होंने बताया कि एनसीईआरटी सिलेबस को मदरसों के बच्चों की बेहतरी के लिए जोड़ा गया है। उन्होंने एक सवाल के जवाब में विपक्ष को आड़े हाथों लिया और कहा कि विपक्ष नहीं चाहता कि मुसलमान तरक्की करें उन्होंने कहा कि मुसलमान का बच्चा अगर उर्दू, हिंदी, अरबी के साथ अंग्रेजी बोलना सीखने तो क्या बुराई है, उन्होंने कहा कि पिछली सपा सरकार में अगर आप पूछेंगे कि सपा सरकार ने मुसलमानों के लिए क्या किया तो जवाब आएगा कुछ नहीं, उन्होंने गोला गोकर्णनाथ के हालिया हुए उपचुनाव पर सपा को आईना दिखाते हुए 2024 लोकसभा में और आगामी नगर निकाय चुनाव में भारी जीत का दावा किया।

    उत्तर प्रदेश सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री दानिश आजाद ने एक वर्ग विशेष के ऊपर पुलिसिया कार्रवाई पर चुटकी लेते हुए कहा कि हां जरूर हम एक वर्ग विशेष के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर रहे हैं और वह वर्ग विशेष है गुंडे और माफियाओं का, उन्होंने कहा कि योगी सरकार के बुलडोजर नीति लोगों को पसंद आ रही है और इसे सिर्फ उत्तर प्रदेश में ही नहीं अन्य प्रदेशों में भी पसंद किया जा रहा है, उन्होंने जेल में बंद बाहुबली पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी के परिवार पर हो रही कानूनी कार्रवाईयों को सही ठहराते हुए चुटकी लिया, और कहा कि "बोया पेड़ बबूल का तो मीठा फल कहां से होय", मंत्री दानिश आजाद अंसारी ने आगामी नगर निकाय चुनाव के लिए योगी सरकार की नीतियों को स्पष्ट करते हुए कहा कि आगामी नगर निकाय चुनाव में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को भी चुनाव लड़ने का मौका दिया जाएगा, और हम सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास के नारे को चरितार्थ करेंगे, उन्होंने साफ तौर पर कहा कि हमारे अल्पसंख्यक समुदाय का कोई भी व्यक्ति जो गंभीरता से चुनाव लड़ने के बारे में सोचता है उसे आवेदन करना चाहिए उसके नाम पर् गम्भीरता से विचार किया जाएगा और मौका दिया जाएगा।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.