Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    शाहजहांपुर। जमीनी विवाद में पोते ने बाबा के मारी गोली, मौत।

    • डायल 112 पुलिस के सामने चली गोली
    • निगोही थाने पुलिस की लापरवाही हुई उजागर

    फै़याज़ उद्दीन\शाहजहांपुर। निगोही थाना क्षेत्र के पिपरिया उदयभानपुर गांव में जमीनी विवाद में पोते ने बाबा के लाइसेंसी रायफल से गोली मारकर हत्या कर दी। बाबा की हत्या करने बाले पोते को पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से गिरफ्तार कर लिया। वही एएसपी सिटी ने गांव पहुंचकर घटना स्थल की जांच पड़ताल की। निगोही थाना क्षेत्र के पिपरिया उदयभानपुर गांव निवासी  राधेश्याम का अपने भतीजे पूर्व प्रधान मेवाराम से जमीनी विवाद चल रहा था। विवाद रास्ता निकास को लेकर था। मेवाराम राधेश्याम की जमीन निकलने के लिए रास्ता मांग रहे थे। राधेश्याम सुबह अपनी जमीन पर दीवार उठा रहे थे। इसी दौरान मेवाराम उनका बेटा हरीश अबैध हथियारों से लैस विरोध जताने पहुंच गए। इस बीच दोनों पक्षों में कहासुनी बढ़ गई तथा लाठी डंडे चलने लगे। वही किसी ने 112 को सूचना दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस के सामने भी दोनों पक्षों में विवाद होता रहा। विवाद इतना बढ़ गया कि हरीश ने पुलिस के सामने ही अपने बाबा की सीने में गाेली मार दी। जिससे सनसनी फैल गई। मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मी भी इधर उधर उधर दुबक गए। वही थाना प्रभारी रवींद्र सिंह ने बताया है कि मेवाराम व उसके बेटे मुनीश, सतीश, हरीश और शिवकुमार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। वहीं मेवाराम, सतीश और हरीश को गिरफ्तार कर लिया है। 

    • निगोही पुलिस की लापरवाही से हुआ कत्ल
    निगोही थाना क्षेत्र के पिपरिया उदयभानपुर गांव निवासी राधेश्याम की जमीनी विवाद में गोली मारकर हत्या कर दी गई। वही मृतक के पुत्र शिवम ने बताया कि उसके पिता 10 दिन से निगोही थाने के चक्कर लगा रहा था। शिवम ने बताया उसके पिता लगभग 10 दिन पूर्व निगोही थाने सूचना देने गए थे कि मेवाराम व उसके परिजन उसकी हत्या करने की धमकी दे रहे है। लेकिन पुलिस ने राधेश्याम की बात को अनसुना कर दिया। अहम बात यह है कि पुलिस ने अगर समय रहते दोनों पक्षों पर कार्रवाई कर दी होती तो आज हुई बड़ी घटना को रोका जा सकता था। लेकिन निगोही पुलिस की लापरवाही से जनपद की पुलिस की किरकिरी हो रही है। मौके पर मौजूद तीन आरोपियों को पकड़ लिया गया। अन्य दो को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। घटना होने के तत्काल बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। घटना के समय पुलिस की मौजूदगी नही थी। 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.