Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। विधायक सुरेंद्र मैथनी ने जिलाधिकारी कानपुर को गिनी देश मे फसे रोशन अरोड़ा को लेकर करी मुलाक़ात।

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। गोविंद नगर विधानसभा के विधायक सुरेंद्र मैथानी ने,गिनी देश में फंसे, कानपुर गोविंद नगर के निवासी, मर्चेंट नेवी के रोशन अरोड़ा जो,गिनी देश में बंधक के रूप में फंसे हैं उनके पिता  मनोज अरोड़ा और उनके परिजनों को लेकर जिलाधिकारी कानपुर से उनके निवास पर भेंट करी,और जिलाधिकारी से पूरा प्रकरण बताते हुए और उन्हें एक प्रतिवेदन देते हुए कहा कि,यहां से लिखित रूप से आप भी,इनकी पीड़ा से, आधिकारिक रूप से विदेश मंत्रालय और भारत सरकार को लिखित रूप से अवगत कराकर, मदद दिलाएं।

    विधायक ने कहा कि मैं स्वयं भी अपने स्तर से, व्यक्तिगत रूप से विदेश मंत्रालय में तथा पीएमओ को भी अवगत कराकर, इस परिवार की अभिलंब मदद करूंगा।हमारे कानपुर का परिवार, किसी इस प्रकार के संकट में हो,तो हम सबको मिलकर, उनकी मदद करनी चाहिए। और वहां से बंधक के रूप में फंसे हुए,रोशन अरोड़ा को छुड़ाकर, अपने देश में लाकर, परिवार को सौंपने के लिए, हर स्तर पर,मदद करनी ही चाहिए। 

    विधायक  ने बताया कि,इसी कड़ी में आज जिलाधिकारी से भेंट वार्ता हुई और आगे की कार्रवाई हेतु,यदि आवश्यक पड़ा, तो दिल्ली जाकर भी,अरोड़ा परिवार की पूरी मदद करूंगा। विधायक  ने मनोज अरोड़ा द्वारा दिया गया, मदद हेतु प्रतिवेदन, के साथ, आज एक पत्र, प्रधानमंत्री  को संबोधित पीएमओ को प्रेषित किया।

    विधायक  ने अरोड़ा परिवार के सामने ही, दिल्ली विदेश मंत्रालय में निजी सचिव प्रशांत कुमार से बात करके, उनको अवगत कराया।विदेश मंत्रालय द्वारा संबंधित वीडियो और कागजातों को मंगाया गया,जिसे विधायक  ने अभिलंब विदेश मंत्रालय को भेज दिया।इसी बीच डीएम कैंप कार्यालय के बाहर ही, अरोड़ा परिवार से विधायक  की बातचीत हो रही थी कि, उधर गिनी देश से रोशन अरोड़ा का फोन( मोबाइल )आ गया।* विधायक  ने रोशन से बात करी।रोशन ने बताया कि हम लोग अभी भी, गिनी देश में ही है और जहाज पर ही, हाउस अरेस्ट हैं। हमारे 16 साथियों को गिनी पुलिस ले गई है और किसी अनजान जगह पर अरेस्ट किया हुआ है और मारपीट तथा प्रताड़ित कर रही है।हम लोग बहुत घबराए हुए हैं और बहुत थक गए हैं। विधायक  ने रोशन को भरोसा दिलाया कि तुम हिम्मत मत हारना,मैंने यहां विदेश मंत्रालय को भी सूचित कर दिया है पीएमओ की जानकारी में भी मैं दे रहा हूं,उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री  एवं विदेश मंत्री भारत सरकार की भी जानकारी में लिखित रूप से भी दे रहा हूं, तुम्हें और सभी 16 भारतीय सदस्यों को अभिलंब हमारी केंद्र सरकार, विदेश मंत्रालय द्वारा मदद पहुंचाइ जाएगी।

    विधायक  ने कहा कि मैं हर हाल में स्वस्थ रूप में,रोशन अरोडा को, कानपुर लाने के लिए हर स्तर पर पूरा प्रयास करूंगा। मुझे भरोसा है कि,उसे मैं कानपुर ले आऊंगा जिला अधिकारी से भेंट वार्ता में विधायक सुरेंद्र मैथानी  के साथ,  सुनील नारंग और परिवारी जनों में, रोशन अरोड़ा के पिता  मनोज अरोड़ा एवं तरनजीत( रोशन का साथी कर्मचारी मर्चेंट नेवी का) एवं सनी (रोशन के चाचा का लड़का) एवं राहुल तथा दीपक सिंह एवं मनीष अग्रवाल एवं अभिनव दीक्षित,आदि थे। 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.