Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    शाहजहांपुर। डीएम उमेश प्रताप सिंह ने प्राथमिक विद्यालय का किया आकस्मिक निरीक्षण।

    • आपरेशन कायाकल्प के कार्यों में लापरवाही मिलने पर संबंधित ग्राम प्रधान एवं पंचायत सचिव को नोटिस जारी कर जवाब तलब के निर्देश
    • बच्चों को बेहतर शिक्षा दिए जाने हेतु किया प्रेरित
    • पढ़ाई में कमजोर बच्चों पर विशेष ध्यान देने हेतु डीएम ने निर्देशित किया

    शाहजहांपुर। जिलाधिकारी उमेश प्रताप सिंह ने शुक्रवार को प्राथमिक विद्यालय सिंधौली एवं राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिंधौली का आकस्मिक निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखी जिलाधिकारी ने कड़े निर्देश दिए कि बच्चों को बेहतर शिक्षा उपलब्ध कराई जाय। उन्होंने कहा कि जो बच्चे पढ़ने में कमज़ोर हैं, शिक्षक उन पर विशेष ध्यान देते हुए अतिरिक्त समय भी दें जिससे वह अन्य बच्चों की भांति विषय को बेहतर ढंग से समझ सकें। उन्होंने कहा कि सभी अपने दायित्वों का निर्वाहन पूरी गंभीरता से करें। 

    जिलाधिकारी ने कहा की लापरवाही करने वालों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने प्राथमिक विद्यालय सिंधौली के निरीक्षण के दौरान आपरेशन कायाकल्प के कार्यों में लापरवाही मिलने पर संबंधित ग्राम प्रधान एवं पंचायत सचिव को नोटिस जारी करते हुए जवाब तलब करने हेतु निर्देश दिए। प्राथमिक विद्यालय में शिक्षण कार्य मानकों के अनुरूप न मिलने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त की। अंग्रेजी विषय के आधारभूत प्रश्नों का छात्र/छात्राओं द्वारा संतोषजनक उत्तर न दे पाने पर जिलाधिकारी ने संबंधित शिक्षक को नोटिस जारी करने हेतु भी निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने प्रधानाध्यापिका को कड़े निर्देश दिए सभी कक्षाओं में सुचारू रूप से शिक्षण कार्य संचालित कराया जाय एवं छात्र/छात्राओं को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दिया जाना सुनिश्चित कराएं। सभी बच्चे प्रतिदिन निर्धारित ड्रेस में विद्यालय में उपस्थित हों, यह भी सुनिश्चित किया जाय। जिन बच्चों के अभिभावकों के खातों में ड्रेस की राशि का अंतरण हो चुका है, परंतु अभी तक बच्चो को ड्रेस नही उपलब्ध करायी गई है, ऐसे सभी बच्चों के अभिभावकों के साथ मीटिंग कर ड्रेस बनवाए जाने हेतु आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश प्रधानाध्यापिका को दिए।

    एक ही कक्षा के कुछ बच्चो द्वारा जिलाधिकारी के द्वारा पूछे गए प्रश्नों का ठीक प्रकार से उत्तर देने एवं कुछ बच्चो द्वारा उत्तर न दे पाने पर जिलाधिकारी ने कड़े निर्देश दिए कि पढ़ाई में कमजोर बच्चों को चिन्हित कर उन पर विशेष ध्यान दिया जाए, जिससे वह विषयों को भली भांति समाज सकें। जिलाधिकारी ने सभी को प्रेरित करते हुए कहा की पढ़ाई में कमजोर बच्चों को अध्ययन हेतु प्रेरित कर बेहतर शिक्षा देना ही वास्तविक सफलता है, इसके लिए सभी सम्मिलित रूप से प्रयास करें। जिलाधिकारी ने पुस्तको के वितरण, ड्रेस की राशि का अंतरण, मिड डे मील की गुणवत्ता आदि के संबंध में भी बच्चो से जानकारी ली। सभी बच्चों को पुस्तको का समय से वितरण सुनिश्चित कराए जाने हेतु भी जिलाधिकारी ने कड़े निर्देश दिए। राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिंधौली के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने शिक्षण कार्य, उपस्थिति, स्वच्छता आदि के संबंध में गहनतापूर्वक निरीक्षण किया। विद्यालय में फर्नीचर उपलब्ध न होने पर जिलाधिकारी ने आश्वासन दिया कि शीघ्र ही फर्नीचर की व्यवस्था कराई जाएगी। विद्यालय में स्वच्छता व्यवस्था दुरुस्त किए जाने हेतु भी आवश्यक निर्देश जिलाधिकारी ने दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि नियमित रूप से कक्षाओं का संचालन सुनिश्चित कराते हुए पाठ्यक्रम समय से पूर्ण कराएं।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.