Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सकरन/सीतापुर। डंपर की टक्कर से कार सवार दरोगा की मौत, आरक्षी घायल।

    सकरन/सीतापुर। थाना क्षेत्र में तैनात एक दरोगा की देर रात हुए दर्दनाक सड़क हादसे में मौत हो गयी। दरोगा अपनी निजी कार से सीतापुर से झांसी कोर्ट में होने वाली गवाही को देने जा रहे थे। इसी दौरान उन्नाव-कानपुर मार्ग मार्ग पर सामने से आ रहे एक डम्फर ने उनकी कार को जोरदार टक्कर मार दी। दर्दनाक हादसे में दरोगा की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि कार में मौजूद सिपाही गंभीर रुप से घायल हो गया,जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा गया।

    दुर्घटना में छतिग्रस्त वाहन

    घटना उन्नाव और कानपुर बॉर्डर की हैं। यहां जनपद फतेहपुर के ग्राम बिनकी निवासी दरोगा मनीष सिंह सीतापुर जिले में तैनात थे। मिली जानकारी के मुताबिक,दरोगा मनीष सिंह मौजूदा समय में सकरन थाने में तैनात थे और वह बीती बुधवार की देर रात अपनी निजी कार मारुति ब्रेजा से आरक्षी प्रशान्त के साथ झांसी जनपद जा रहे थे। पुलिस के मुताबिक,दरोगा झांसी जनपद में तैनाती के दरोगा एक हत्या के मामले में विवेचक थे और इसी मामले में वह कोर्ट में गवाही देने जा रहे थे। देर रात कानपुर रोड पर एक डम्फर ने सामने से कार को टक्कर मार दी। इस हादसे में कार का अगला हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया और उसमें सवार दरोगा की मौके पर मौत हो गयी जबकि सिपाही प्रशांत घायल हो गया। घटना के बाद डम्फर चालक वाहन छोड़कर फरार हो गया। दरोगा की मौत से सीतापुर पुलिस महकमे में मातमी दुख है।

    दरोगा मनीष सिंह की फाइल फोटो 

    थानाध्यक्ष के निधन पर जताया शोक

    सीतापुर। अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा इकाई उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ जिला महामंत्री वरुण सिंह तोमर द्वारा ब्रहस्पतिवार को कलेक्ट्रेट कैंपस के अधिवक्ता चेंबर में शोक सभा बैठक आहूत की। शोक सभा बैठक की अध्यक्षता संरक्षक मंडल के वरिष्ठ सदस्य ज्ञान प्रकाश सिंह प्रतीक ने की। निधन पर शोक सभा आहूत कर 2 मिनट का मौन रखकर दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की गई। शोक सभा में दिनेश पाल सिंह, राम लखन सिंह तोमर, गौरव सिंह आदि मौजूद रहे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.