Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गाज़ीपुर। कर्मचारी संगठनों ने भरी हुंकार लौटा दो पुरानी पेंशन ।

    • कर्मचारी संगठनों ने सरकार और विधायकों को एक जुट होकर ओपीएस पर चेताया
    • कर्मचारियों ने प्रदेश व्यापी प्रदर्शन के दौरान गाज़ीपुर के विकास भवन पर किया प्रदर्शन
    • विधायको और जनप्रतिनिधियों को पुरानी और कर्मचारियों को नई पेंशन स्कीम, मंजूर नहीं
    • कर्मचारियों ने कहा 2024 चुनाव के पहले सरकार को करना होगा फैसला

    महताब आलम\गाज़ीपुर। पुरानी पेंशन बहाली को लेकर संयुक्त राज्य कर्मचारी संगठन के बैनर तले आज प्रदेश व्यापी प्रदर्शन के आह्वान पर गाज़ीपुर के विकास भवन पर दर्जनों विभागीय संगठनों के हजारों कर्मचारियों ने एकजुट होकर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। 2024 लोकसभा चुनाव से पहले कर्मचारियों के विभिन्न घटकों ने सरकार के सामने पुरानी पेंशन बहाली मुद्दे को उठाकर फिर सरकार का टेंशन बढ़ा दिया है। पुरानी पेंशन बहाली को लेकर कर्मचारी संगठन एक्टिव हो गए हैं। आज सोमवार को राज्य कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष अंबिका दुबे ने बताया कि ये प्रदर्शन प्रदेश व्यापी है जिसमें ग्यारह सूत्रीय मांग को लेकर आज सभी कर्मचारी संगठनों ने संयुक्त रूप से गाज़ीपुर के विकास भवन पर धरना प्रदर्शन किया है। 

    उन्होंने बताया कि हम कर्मचारियों ने एक स्वर में सरकार से पुरानी पेंशन जल्द बहाल करने की मांग की। कर्मचारियों ने कहा कि सरकार विधायको को पुरानी पेंशन दे रही है जबकि हम कर्मचारी जो उन्हें वोट देकर चुनते हैं उन्हें मार्किट शेयर पर आधारित पेंशन क्यों देने की बात हो रही है। उन्होंने कहा कि पंजाब, छत्तीसगढ़ और अन्य कई राज्यो में पुरानी पेंशन बहाली हो चुकी है और गुजरात समेत अन्य कई राज्यों में भी कर्मचारियों की मांगे मानी जा रही हैं। 

    उन्होंने कहा कि पुरानी सपा सरकार ने हमारी मांगो को मानने की बात कही थी, इस सरकार को भी हमारी मांगे माननी पड़ेगी अन्यथा धरना प्रदर्शन और उग्र होगा। वही कर्मचारी संगठन के अन्य नेताओं ने भी सरकार से अपनी मांगों पर् विचार कर शीघ्र मां जाने की चेतावनी दी है, अन्यथा आगामी लोकसभा चुनाव में सरकार को खामियाजा भुगतने के लिए तैयार रहना होगा। क्योंकि कर्मचरियो का मानना है कि जो हमारी मांगों को मानेगा हम उनके साथ रहेंगे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.