Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। पादरी, फादर और सिस्टर्स के साथ धर्मांतरण के झूठे आरोप लगाकर उनके साथ मारपीट करने वाले पर कार्यवाही हो।

    ........ धमकी देने वाले ऐसे लोगो के विरोध मे कठोर कानूनी कार्यवाही की मांग

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। कट्टरपंथी दलों और संघटन के लोगों के द्वारा निर्दोष मसीह समाज के लोगो को उनके चर्चों, आराधनालयों व मंडलियों मे जबरन घुसकर मारपीट तोड़फोड़ कर पवित्र धर्म ग्रंथ बाइबल को फाड़कर फेकना और (धर्मगुरुओं )पादरी, फादर और सिस्टर्स के साथ धर्मांतरण के झूठे आरोप लगाकर उनके साथ मारपीट करने वाले उगाही और धमकी देनेवाले ऐसे लोगो के विरोध मे कठोर कानूनी कार्यवाही करने के लिए पास्टर्स  एसोसिएशन एवं उत्तर प्रदेश अखिल भारतीय अल्पसंख्यक के नेतृत्व में जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर कहा कि मसीह समाज के चर्चों, आराधनालयों और मंडलियों की सुरक्षा के संबंध मे देश के संविधान और कानून के अनुसार सभी नियमों का पालन करते हुए, राष्ट्र के प्रति प्रेम, विश्वस्तता और निष्ठा के साथ जीने वाले नागरिक हैं और अपने सामाजिक, धार्मिक और सांस्कृतिक जिम्मेदारियों के प्रति प्रतिबद्ध हैं।

    कानपुर और आस पास जिले के सामाजिक तानेबाने को बिगाड़ने और हम शान्ति प्रिय मसीही धर्म के लोगों को परेशान करने वाली एक नयी प्रवृत्ति की ओर हम आपका ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं! जनपद के कुछ हिस्सों में कुछ असामाजिक तत्वों के एक समूह द्वारा निर्दोष नागरिकों पर झूठा आरोप लगाने और सन् 2020 में पारित हुए धर्मपरिवर्तन विधेयक को गलत तरीके से इस्तेमाल करते हुए मसीह समाज के पादरियों से धन की उगाही करने और पैसे न देने पर मारने की ओर चर्च एवम् प्रार्थनासभा वा मंडली को बंद कराने की धमकी देते हुए वसूली का जरिया बनाते हुए और अपने लिए राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए मसीहियों, पादरियों को दोषी ठहराने का रैकेट चलाया जा रहा है।  फरवरी 2020 में लाल बंग्ला क्षेत्र के अहिरवा में पादरी संजय राज सिंह अपने घर में प्रार्थना सभा कर रहे थे अपने लोगों के साथ तभी अचानक से दल विशेष के लोग जबरन घर में घुसकर के हो, पुलिस को बुलाकर के झूठे आरोप लगाते हुए पादरी संजय राज सिंह को गिरफ्तार कराते हुए वहां उनकी आराधना मंडली को बंद कराया और उनके खिलाफ झूठ मुकदमा थाना चकेरी में दर्ज कराया। इसी प्रकार सितंबर 2021 को पादरी सैमसन मसीह अपने घर में 7 नवंबर 2022 को घाटमपुर क्षेत्र में पादरी प्रकाश सोनारे और उनकी पत्नी एवं उनके सहयोगी भाई जगराम सिंह भाई राजेश शंखवार को क्षेत्र के बजरंग दल के कार्यकर्ता ईशु अवस्थी के द्वारा धन की उगाही की धमकी दी गई एवं पैसा ना देने पर धर्मांतरण कानून 2020 का गलत इस्तेमाल. करते हुए झूठे आरोपों के तहत पित. करके उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है कल दिनांक 8 नवंबर कानपुर देहात के पतारा क्षेत्र के पादरी कमलेश मसीह को पुलिस के द्वारा धमकी' व दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाए! ज्ञापन के दौरान महासचिव जितेंद्र सिंह, धनीराम बौद्ध, संजय अल्विन अनिल गिलबर्ट, एबी सिंह पप्पू यादव राकेश मशीह, रेजी जॉन, साजू इलियास, संतोष शिवपुरी, प्रदीप राव रविंद्र सिंह देवेंद्र राव विजय मोहन हन्नाया पानी इत्यादि लोग मौजूद रहे!

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.