Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। बाबा आनंदेश्वर कोरिडोर के द्वितीय फेज़ का सांसद पचौरी नें किया निरीक्षण।

    • निरीक्षण के दौरान सांसद पचौरी संग अधिकारियों ने खींचा द्वितीय चरण कार्य का खांका
    • दरबार तक गंगा से होकर गुजरेगा नया वैकल्पिक रास्ता
    • सेल्फी प्वॉइंट एवं भव्य आरती स्थल बनाने पर बनी सहमति
    • 2010 में बढ़े गंगा के जलस्तर का होगा आंकलन। 

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर की तर्ज पर ही बाबा आनंदेश्वर मंदिर धाम कॉरिडोर विकसित करने का काम तेज हो गया है। पहले चरण के शुरू हो चुका काम अब अपने अंतिम चरण पर है। वहीं दूसरे चरण के काम की रूपरेखा भी रविवार को तय कर दी गई। आपको बतादे की पुलिस चौकी के सामने बने दरबार के के मुख्य गेट से दाहिने होते हुए गंगा से होकर मंदिर तक एक एलीवेटेड रूट बनाया जाएगा। इसके साथ ही मंदिर के घाट को सुंदरतम रूप देने के साथ साथ काशी और हरिद्वार की तर्ज पर नित्य आरती के लिए अलग से एक स्थल भी बनाया जाएगा। जिसे सन 2010 में आई बाढ़ के दौरान जो अधिकतम जलस्तर था उससे आधार पर उससे अधिक ऊंचा आरती स्थल बनये जाने की रुपरेखा तैयार की जाएगी ताकि स्नान करने वाले श्रद्धांलुओं के साथ आरती में सम्मलित होने वाले भक्तों की सुविधा को भी ध्यान रखा जा सके। बाबा आनंदेश्वर कोरिडोर का कुल तीनों चरणों में काम होना है जिससे यह धाम विकसित होगा।  

    कॉरिडोर के पहले चरण का काम छह करोड़ रुपये से अभी हो रहा है। इससे मार्ग को सुगम बनाने के साथ ही पार्किंग स्टैंड बनाया जा रहा है। वहीं वीआईपी रोड से मंदिर तक यह सड़क बन रही है और इसे 40 फीट चौड़ा किया जा रहा है। इसी क्रम में रविवार को सांसद सत्यदेव पचौरी ने डीएम विशाख जी, नगर आयुक्त शिवशरण्णप्पा जीएन व सीडीओ सुधीर कुमार के साथ स्मार्ट सिटी अधिकारियो नें भी मंदिर व गंगा घाट का निरीक्षण किया। साथ ही दूसरे और तीसरे चरण में होने वाले कार्यों की रूपरेखा बनाई गई।  सांसद पचौरी नें बताया की गंगा तट से बनने वाले वैकल्पिक मार्ग में अवरोधक अतिक्रमण भी हटेंगी।

    दरअसल गेट से गंगा होते हुए मंदिर तक जो मार्ग बनाया जाना है । यह मार्ग व गंगा आरती स्थल आरसीसी पिलर पर बनेगा । ये पिलर 2010 में आई बाढ़ में जो गंगा का जलस्तर था उससे आधार पर उसका आकलन होगा। इस स्थल के बनने से स्नान करने को आने वाले श्रद्धांलुओं को गंगा में स्नान के लिए भी राह स्वक्षता के साथ आसान होगी।

    • सांसद सत्यदेव पचौरी नें क्षेत्रीय जनता से की अपील

    सांसद पचौरी ने कहा कि मुझे इस बात का गर्व है कि मेरे कार्य काल में सम्पूर्ण उत्तर भारत के आस्था के केंद्र काहे जाने वाले बाबा आनंदेश्वर धाम का कोरिडोर बनने जा रहा है। आज मुझे विश्वास हों गया है कि जल्दी ही शहर वासियों का यह स्वप्न पूर्ण होगा। जिसके प्रथम चरण का कार्य अपने अंतिम पढ़ाव पर है और द्वितीय चरण का कार्य शीघ्र शुरू होगा जिसमे आने वाली हर बधाओ को दूर किया जायेगा उन्होंने कहा कि हमें हमेशा सकारात्मक सोचना चाहिये ज़ब बधायें आएगी तों उनका समना भी किया जायेगा।

    उन्होंने कहा कि उन्हें आशा है कि जिस तरह काशी में कोरिडोर निर्माण के समय स्थानीय लोगों ने भरपूर सहयोग किया बिश्वास है नगर के भी स्थानीय जनमानसभी पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा।


    • इन तीन चरण में बन कर तैयार होगा भव्य आनंदेश्वर कोरिडोर 

    1. पहला चरण -- वाहन पार्किंग व मार्ग चौड़ी एवं सुंदरकरण
    2. दूसरा चरण -- बाबा आनंदेश्वर दरबार तक जाने का वैकल्पिक रास्ता....सेल्फी पॉइंट एवं अटल घाट कि तरह गंगा घाट व आरती स्थल का सुंदरीकारण
    3. तीसरा चरण -- ..तीसरे चरण में मुख्य मार्ग का होगा सुंदरकरण

    तीसरे चरण में मुख्य गेट से त्रिशूल गेट तक का रास्ता दुरुस्त किया जाएगा। यहां जो भी दुकानें हैं उन्हें हटाया जाएगा और मार्ग चौड़ा होगा।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.