Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गया\बिहार। स्नातक बेरोजगारों को भत्ता दिलाने की मांग को लेकर चरणबद्ध आंदोलन हुआ शुरू।

    संवाददाता प्रमोद कुमार यादव गया बिहार

    गया\बिहार। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुशार आज दिनांक 19 नवंबर  को स्थानीय चौक स्थित इंदिरा गांधी जी के प्रतिमा को नमन कर  शांतिपूर्ण " बेरोजगार मार्च " का आयोजन हुआ, जो चौक, कोतवाली, जी बी रोड, समाहरणालय, राय काशीनाथ मोड़ होते गांधी मैदान में समाप्त हुआ। कार्यक्रम का नेतृत्व अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सदस्य सह क्षेत्रीय प्रवक्ता बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी एवम् पूर्व विधायक मो खान अली ने संयुक्त रूप से किया। कार्यक्रम में शामिल कांग्रेस पार्टी के नेता कार्यकर्ता तथा स्नातक बेरोजगारों ने कहा की देश, प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर है, बेरोजगार युवा आत्महत्या तक करने तक उतारू है, आजादी के बाद देश में पहली बार ऐसी स्थिति बनी है।

    नेताओ ने कहा की तीन वर्ष पुराने स्नातकों को जब तक रोजगार नही मिल जाती तब तक प्रतिमाह 6000₹/ माह बेरोजगारी भत्ता सरकार द्वारा मुहैया कराने से बेहाल बेरोजगारों को राहत मिलेगी। नेताओ ने कहा की आज नौकरी देने वाले बड़े, बड़े संस्थाएं रेलवे, एयर इंडिया, बि एस एन एल, सहित देश के नौरतन कंपनियों को सरकार कौड़ी के भाव चंद पूंजीपतियों के हाथो बेच रही है, कौशल विकास जैसे कार्यक्रम द्वारा रोजगार देने की केंद्र सरकार की घोषणा पूरी तरह छलावा है।नेताओ ने कहा की आज देश की सत्ता में बैठी भाजपा सरकार प्रतिवर्ष दो करोड़ बेरोजगारों को रोजगार देने की घोषणा कर सरकार में आई थी, परंतु आज वही सरकार इसे जुमला बता रही है , मोदी सरकार अपने आठ वर्षो के कार्यकाल में चंद लाख ही नौकरी दी है ।

    नेताओ ने कहा की यह चरणबद्ध के तहत आगे धरना, प्रदर्शन, तथा पटना एवम् दिल्ली में राजस्तरीय महारैली का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम में जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष  बाबूलाल प्रसाद सिंह, शशिकांत सिन्हा, अभिषेक श्रीवास्तव, प्रो डा आफताब आलम, शिव कुमार चौरसिया, टिंकू गिरी, अमरजीत कुमार, कुंदन कुमार, विशाल कुमार, असरफ इमाम, उदय शंकर पालित, बाल्मिकी प्रसाद, जगरूप यादव, जितेंद्र यादव, श्रवण पासवान, सौरव शर्मा, सुरेश कांत सहाय, सहित सैकड़ों बेरोजगार स्नातक शामिल थे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.