Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। अवैधानिक रूप से घोषित किए गए परिणाम के क्रियान्वयन रोक लगाई जाए : हरिश्चंद्र दीक्षित

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा चयन बोर्ड प्रयागराज, विज्ञप्ति संख्या03/2013 के प्रधानाचार्य के चयन परिणाम बिना बोर्ड का कोरम पूरा किए हुए अवैधानिक रूप से घोषित किए गए परिणाम के क्रियान्वयन रोक  लगाई जाए उक्त मांग उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय अध्यक्ष हरीश चंद्र दीक्षित एवं तदर्थ प्रधानाचार्य ने एक संयुक्त विज्ञप्ति में दी  विज्ञप्ति के अनुसार  श्याम बाबू पांडेय एवं अन्य चार प्रधानाचार्य की याचिका पर  साक्षात्कार याचिका संख्या 1163/2022 के परिणाम से प्रतिबंधित किया था। 

    जो आदेश  निम्न वत है   "The Interview Would be subject to the resuld of the petition" इसी प्रकार याचिका संख्या802/2022 मैं विनियमितीकरण पर निर्णय देने के आदेश भी हुए थे आदेश ना करने पर अथवा प्रति शपथ पत्र ना लगाने पर व्यक्तिगत रूप से शासन की प्रमुख सचिव को आदेश दिनांक27-05-2022 को न्यायालय में उपस्थित होने के निर्देश दिए गए थे चयन बोर्ड ने उक्त दोनों आदेशों को गंभीरता से नहीं लिया तथा चयन बोर्ड का कोरम पूरा न होने पर तानाशाही पूर्ण रवैया से प्रधानाचार्य के चयन का परिणाम घोषित कर दिए यहां तक कि अकेले चयन बोर्ड के अध्यक्ष ने आने को साक्षात्कार ले लिए और परिणाम घोषित कर दिए चयन बोर्ड की उक्त प्रक्रिया पूर्णतया अवैधानिक होने के साथ-साथ तदर्थ प्रधानाचार्य के विरुद्ध एक षड्यंत्र का प्रतीक है।                तदर्थ प्रधानाचार्य  श्याम बाबू पांडे, डॉ अन्वेष सिंह, पूनम सिंह,रश्मि अस्थाना, प्रमोद कुमार, कृष्ण मोहन उपाध्याय, अजय पाठक, आदि ने घोर असंतोष एवं विरोध प्रकट किया तथा न्यायालय की अवमानना का भी वाद दाखिल करने की घोषणा की है?उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय अध्यक्ष ने दिनांक 1 दिसंबर 2022 को आयुक्त महोदय के माध्यम से प्रदेश के  मुख्यमंत्री एवं  राज्यपाल  को ज्ञापन भेजने का निर्णय लिया है। 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.