Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। मुख्य विकास अधिकारी ने विकास खंड कार्यालय चौबेपुर का निरीक्षण किया गया।

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। सुधीर कुमार, मुख्य विकास अधिकारी, कानपुर नगर के द्वारा  विकास खंड कार्यालय चौबेपुर का पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान परियोजना निदेशक जिला ग्राम विकास अभिकरण  उपस्थित रहे।सर्वप्रथम विकास खंड कार्यालय में कार्यरत अधिकारियों/ कर्मचारियों की उपस्थित  रजिस्टर का अवलोकन किया गया ।जिसमें विजय सिंह कुशवाहा पत्र वाहक अनुपस्थित पाए गए जिसके सन्दर्भ में खंड विकास अधिकारी ने अवगत कराया कि उक्त कर्मचारी  7 अगस्त 2022 से अनुपस्थित चल रहे हैं। 

    इस पर मुख्य विकास अधिकारी ने निर्देशित करते हुए कहा कि अनुपस्थित चल रहे कर्मचारी के विरुद्ध निलंबन की कार्यवाही किए जाने का प्रस्ताव तत्काल प्रेषित  किया जाए। सभी ग्राम पंचायतों में मनरेगा के अंतर्गत कार्य करने वाले कम श्रमिक लगे हुए हैं अगले 7 दिन में इनको 20 के औसत में कराने के निर्देश दिए गए। खंड विकास अधिकारी को धान क्रय केंद्रों का भ्रमण न किए जाने , क्रेडिट कार्ड की रिपोर्ट प्रस्तुत न किए जाने, एनआरएलएम के संबंध में विधिवत जानकारी न देने, मनरेगा के कार्यों में शिथिल पर्यवेक्षण बरतने के संबंध में प्रतिकूल प्रविष्टि दिए जाने के निर्देश दिए गए। एडीओ आईएसबी के द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत समूहों को विभिन्न मानकों के अनुरूप संतृप्त किए जाने की भ्रामक सूचना प्रस्तुत करने के संबंध में विभागीय कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए गए। अवर अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण विभाग चौबेपुर के विरुद्ध अमृत सरोवर में कार्य करने में रुचि न लेने, शिथिलता बरतने तथा क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष व खंड विकास अधिकारी के निर्देशों का पालन न करने के संबंध में उनके विरुद्ध कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए गए। 

    खंड विकास अधिकारी को यह भी निर्देश दिए गए की विकासखंड चौबेपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को क्षेत्र पंचायत के धन से सुंदरीकरण और जनोपयोगी व्यवस्थाएं कराए जाने के निर्देश दिए गए। ग्रामों में कम श्रमिकों के लगे होने, 48 के सापेक्ष मात्र 11 महिला मेट के लगे होने तथा अन्य कार्यों में पर्याप्त रुचि न लेने के संबंध में अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी मनरेगा, चौबेपुर के संबंध में अगले 1 सप्ताह में सुधार न करने पर उनके विरुद्ध उनकी संविदा समाप्त किए जाने के का प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.