Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कासगंज। कलयुगी बाप ने कर दिया अपने ही मासूम बेटे का 500000 में सौदा, पुलिस ने 12 घंटे में कर दिया खुलासा।

    ........ अपनी भाभी के साथ मिलकर पहले अपने 3 माह के मासूम को घर से चोरी किया और फिर बरेली की एक महिला से ₹500000 में डील कर दी फाइनल।

    अतुल यादव\कासगंज। यूपी के कासगंज में एक ऐसा सनसनीखेज मामला सामने आया है जिसे सुनने के बाद आपका बाप जैसे पवित्र रिश्ते से भरोसा ही उठ जाएगा, जिले के सोरों कोतवाली क्षेत्र के गांव में शातिर बाप ने पहले अपने 3 माह के मासूम को शनिवार की मध्यरात्रि में चोरी किया और रातों-रात पड़ोसी जनपद एटा में अपने साथी के यहां भेज दिया।

    आरोपी बाप ने शातिराना चाल चलते हुए खुद ही बच्चा गायब होने की सूचना देकर शोर मचाते हुए ग्रामीणों को एकत्रित कर लिया और बाद में मामले की सूचना पुलिस को भी दी।

    पूरे मामले पर पुलिस टीमों ने कार्रवाई करते हुए अपह्त हुए 3 माह के मासूम को पड़ोसी जनपद एटा से बरामद कर लिया और आरोपी पिता उसकी भाभी और षडयंत्र में शामिल एक अन्य व्यक्ति को भी गिरफ्तार कर लिया।

    इधर मामले के खुलासे से गदगद डीआईजी अलीगढ़ रेंज दीपक कुमार ने कटरा का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को ₹40000 इनाम राशि देने की घोषणा की है तो वही कलेजे के टुकड़े को देखकर मां की आंखें नम हो गई और उसने कासगंज पुलिस को ढेरों दुआएं दी।

    रिश्तो को कलंकित कर देने वाली इस शर्मनाक वारदात का खुलासा करते हुए एसपी कासगंज बीबीजीटीएस मूर्ति ने बताया कि आज सुबह सोरों पुलिस को सूचना मिली थी कि कुमरौआ गांव के रहने वाले रविंद्र का 3 माह का बेटा ईशान रात में किसी ने घर से चोरी कर लिया है, सूचना के बाद सीओ सहावर दीपकुमार पंत के नेतृत्व में 3 टीमों का गठन किया गया और युद्ध स्तर पर मासूम की बरामदगी के लिए पुलिस टीमों ने कार्यवाही शुरू की।

    मजबूत और आधुनिक वैज्ञानिक तकनीकी और पुलिस टीमों की कार्यकुशलता से सबसे पहले आपात बच्चे के पिता रविंद्र से पुलिस टीमों ने पूछताछ की उसके बयानों में विरोधाभास प्रतीत हुआ, शक होने पर उसके साथ थाने लाकर कड़ाई से पूछताछ हुई तो आरोपी टूट गया और उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

    पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने अपने 3 माह के बेटे का सौदा बरेली की एक महिला से ₹500000 में किया है, उक्त घटना में आरोपी के छोटे भाई की पत्नी ने उसका साथ दिया और मासूम को गायब करने के बाद रातों- रात पड़ोसी जनपद एटा के बागवाला थाना क्षेत्र के राजपुर गांव में बदन सिंह के घर पहुंचा दिया है, इस षड्यंत्र में एटा के ही जैथरा थाना क्षेत्र के 1 गांव निवासी ओमपाल भी शामिल था जिसने बरेली की महिला से यह डील फाइनल कराई थी। इसके बाद पुलिस टीमों ने आरोपी की निशानदेही पर एटा के बागवाला थाना क्षेत्र के गांव राजपुर से बदन सिंह के घर से मासूम को बरामद कर लिया और घटना में शरीक रहे बदन सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया।

    इस पूरे मामले में षड्यंत्रकारी की भूमिका में रहे एटा के ही जैथरा थाना क्षेत्र के 1 गांव निवासी ओमपाल की तलाश में पुलिस जगह-जगह छापेमारी कर रही है लेकिन वह फरार है,0 एसपी ने बताया कि ओमपाल की गिरफ्तारी के बाद ही बरेली की बच्चा खरीदने वाली महिला के बारे में पता चल पाएगा। इधर मामले के खुलासे से गदगद डीआईजी अलीगढ़ रेंज दीपक कुमार ने त्वरित कार्रवाई करने वाली पुलिस टीमों को ₹40000 इनाम देने की घोषणा की है, एक मां की गोद सूनी होने से बच गई।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.