Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पलवल। सी आई ए पुलिस ने 209 फर्जी बैंक कार्ड पकड़े।

    पलवल से ऋषि भारद्वाज की रिपोर्ट

    पलवल। जिले की होडल की अपराध शाखा पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी। पुलिस ने दो ऐसे आरोपियों को गिरफ्तार किया है जो लोगों के ए टी एम कार्ड बदलकर उनके खातों से पैसे निकालते थे। अब पकड़े गए दोनों आरोपियों ने लोगों के अलग अलग खातों से 4 से 5 करोड़ रुपए निकाल चुके हैं और पकड़े गए आरोपी पिछले 10 सालों से इसी काम को कर रहे हैं। पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के कब्जे से अलग अलग बैंकों के 209 ए टी एम कार्ड,एक स्वैप मशीन और एक मोबाइल  बरामद किया है। पकड़े गए आरोपियों ने 2014 से उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र हरियाणा पलवल में इस प्रकार की वारदातों को दिया हुआ है । आरोपियों से और भी खुलासा करने के लिए अदालत में पेस करके रिमांड पर लिया जाएगा।  

    होडल की अपराध जांच शाखा पुलिस के इंचार्ज जंगशेर सिंह ने बताया कि दिनांक 9 नवंबर 2022 को धर्मवीर सिह पुत्र श्री भरोसा सिह निवासी कलोरी, पोस्ट डोरीखाल, तह0 लंचडोन, जिला पोडी, उतराखण्ड हाल वी - 168 गांधी कालोनी, NIT फरीदाबाद  ने थाना होडल में अपनी शिकायत दर्ज कराई कि वह दिनांक 09.11.2022 को अपनी कार स्वीफट डिजायर नम्बर HR 38Y 3358 मे सवारी लेकर फरीदाबाद से होडल जिला पलवल आया था। उसका बैंक खाता संख्या  SBI बैंक में है जो  उसके बैंक खाता मे कुछ रूप्ये आने थे। जिनको चेक करने के लिये गउशाला मार्किट होडल में SBI एटीएम में जाकर बैंक खाता का बलैन्स चौक करने के उपरान्त वह वापिस आ गया उसके कुछ उपरांत उसके फोन पर दो मैसीज 5 हजार व 10 हजार रुपए बैंक  खाता से कटने के आये । उसको सक होने उपरान्त अपने ATM कार्ड को चौक किया तो एटीएम   कार्ड सचिन राठोड नाम बदला हुआ पाया। जो किसी अज्ञात ने चकमा देकर उसका ATM कार्ड बदल दिया और बाद में उसके 15000/- निकाल लिए जिस पर अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मु0नं0 523 दिनांक 09.11.2022 धारा 420,379 भा0द0स0 थाना होडल जिला पलवल मे पंजीबद्ध किया गया।

    आगे जानकारी देते हुए प्रभारी सीआईए इंचार्ज  ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए तथा अक्सर हो रही इस प्रकार की वारदातों को मद्देनजर जिला  पुलिस अधीक्षक राजेश दुग्गल ने इस प्रकार की वारदातों को अंजाम देने वालों पर अंकुश लगाने हेतु  दिशा निर्देश दिए हैं जिन के अनुरूप कार्य करते हुए स्टॉफ में तैनात सहायक उप निरीक्षक सूबे सिंह के नेतृत्व में गठित टीम ने गत दिनांक 9 नवंबर 2022 को ही विश्वसनीय सूत्रों की सूचना के आधार पर वारदात को अंजाम देने वाले दो आरोपियों को चंद घंटों के अंदर पुनहाना मोड से भारी मात्रा में अलग-अलग एटीएम कार्ड एवं स्वाइप मशीन सहित धर दबोचा।  उन्होंने बताया की पकड़े गए आरोपियों की पहचान गांव रनियाला खुर्द थाना उटावड़  जिला पलवल निवासी अकरम पुत्र मौहम्मद अली व मौहम्मद अमर पुत्र निसार अहमद के रूप में हुई।

    आरोपियों की तलाशी के दौरान पीड़ित धर्मवीर के एसबीआई बैंक के एटीएम कार्ड के अलावा एसबीआई बैंक के 58 एटीएम., एचडीएफसी के 29 एटीएम, बैंक आफ बडोदा के 19 एटीएम, पीएनबी के 11 एटीएम, ईण्डीयन बैंक के 6 एटीएम, एक्सीस बैक के 16 एटीएम , बीओआई के 17 एटीएम, यूनियन बैंक के 11 एटीएम, कोटक बैंक के 8 एटीएम, आई०सी०आई०सी०आई० बैंक के 11 एटीएम, आई०डी०एफ०सी० बैंक के 4 एटीएम एफ0आई० बैंक के 6 एटीएम, स्टेट बैंक के 7 एटीएम, फिनो बैंक के 6 एटीएम, जो कुल 209 एटीएम तथा एक ए0टी0एम0 स्वैप मशीन BhartSwipe मशीन, एक मोबाईल फोन वीवो बरामद किए गए हैं।  बरामद एटीएम कार्ड, मशीन तथा मोबाइल को कब्जा पुलिस में लिया गया। आरोपियों ने गहन पूछताछ के दोनों ने बताया कि उन्होंने इस प्रकार की कई  वारदातों को उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र सहित जिला हरयाणा,पलवल में अंजाम दिया हुआ है। आरोपियों ने बताया कि वे इस स्वाइप मशीन के जरिए फर्जी खाते में पैसे डाल कर वापस पैसे निकाल लोगों को अपनी ठगी का शिकार बनाते हैं। इस पर मुकदमा में धारा 467,468, 471 भा0द0स० ईजाद की गई अपराधिक रिकॉर्ड के मुताबिक आरोपी अकरम के खिलाफ इसी प्रकार की धोखाधड़ी से जरिए एटीएम बदल ठगी करने के उज्जैन एमपी सहित 6 मामले विभिन्न थानों में दर्ज होने पाए गए। आरोप इससे पूर्व 2014 में उज्जैन के इसी प्रकार ठगी मामले में जेल जाना पाया गया जो 2016 में जमानत  उपरांत इस प्रकार की ठगी की वारदातों को अंजाम देकर फरार होने में सफल चला हुआ था।  आरोपियों से वारदातों का खुलासा किए जाने हेतु आरोपियों को आज पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा ताकि नेटवर्क से जुड़े किसी भी अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा।

    जंग शेर सिंह सी आई ए इंचार्ज  होडल पलवल




    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.