Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    खैराबाद\सीतापुर। रहीमाबाद में मखदूम सैय्यद अब्दुर्रहीम शाह का तीन दिवसीय उर्स सम्पन्न।

    ........ हमे आपसी भाईचारा स्थापित करके तरक़्क़ी की राह पर आगे आना होगा:-सैय्यद आसिफ़ अली    

    शरद कपूर

    खैराबाद\सीतापुर। सिलसिला ए मख्दूमींन के बुजुर्ग तथा हज़रत छोटे मखदूम साहब खैराबादी के पौत्र मखदूम सैय्यद अब्दुर्रहीम अलैहिर्रहमा रहीमाबादी का तीन दिवसीय उर्स जो 13 से प्रारम्भ हुआ था आज 15 अक्टूबर को सांय काल  क़ुल शरीफ के बाद समाप्त  हो गया  क़ुल शरीफ़ के अवसर पर बड़े मखदूम साहब के सज्जादानशीन नजमुल हसन शोएब मियां ने कहा कि हमे आपस मे मेल मिलाप से रहना चाहिए और भाईचारा कायम करना चाहिए  तभी हम कामियाब हो सकते हैं।जबकि दरगाह मतवल्ली सैय्यद आसिफ अली ने कहा कि हम सबको मिलकर आपसी भाईचारा कायम रखना होगा और एक दूसरे से मोहब्बत से मिलना चाहिए पड़ोसियों के साथ हमदर्दी और उनकी मदद हमारा मकसद होना चाहिए।इससे पूर्व तीन दिवसीय उर्स में पहले दिन 13 अक्टूबर को महफिले मीलाद तत्पश्चात ख्वाजा क़ुतुब साहब का फातेहा तथा महफिले समा हुई दूसरे दिन प्रातः क़ुरआन ख़्वानी और दोपहर में क़ुतुब साहब का कुल शरीफ़ हुआ तथा रात में दरगाह मतवल्ली डॉ सैय्यद आसिफ अली के मकान  से चादर  मदनी मियां की सरपरस्ती में तथा मतवल्ली आसिफ अली  की उपस्थिति में दरगाह पहुंची जहां देर रात तक क़व्वाली हुईं  तीसरे दिन सुबह क़ुरआन ख़्वानी तथा ज़ोहर की नमाज़ के बाद क़व्वाली प्रारम्भ हुईं ततपश्चात क़ुल शरीफ हुआ। इस प्रकार 15अक्टूबर की रात्रि में उर्स के समस्त कार्यक्रम समाप्त हो गए।

    इस अवसर पर उपस्थित लोगों में बड़े मखदूम साहब के सज्जादानशीन शोएब मियां,छोटे मख़्दूम साहब के मदनी मियां, दरगाह हाफ़िज़िया अस्लमियाँ के हाजी सैय्यद फुरक़ान वहीद हाशमी,सैय्यद सूफ़ी इज़हार अहमद लखनऊ, सैय्यद कसीम अशरफ जायसी उर्फ हसन मियां,हाजी नफ़ीस अशरफी जगदीश पुर ,सैय्यद मुमताज़ मियां खीरी, मौलाना रज़ी अहमद खान,शकील गयावी,मोहम्मद इरफान लखनऊ,पप्पू मियां इलाहाबाद, डॉ मसरूर अली,सैय्यद फरमान हाशमी चिश्ती,सैय्यद फ़रहान मियां चिश्ती,सैय्यद नवेद असलम हाशमी सलमी मियां,हसन साकिब उर्फ तय्यब उस्मानी,सैय्यद इश्तियाक़ अली वारसी,सैय्यद इम्तियाज़ अली,मौलाना मोहम्मद फैजान अहमद, अज़ीज़ अहमद,गुड्डू,मोहम्मद जलीस,शौकत अली लखीमपुर, सैय्यद साबिर अली,,सैय्यद वसीम अहमद,अर्सलान  हसनी,पूर्व सभासद शाहिद अली,सिराजुल हसन, गोदी वारसी,इमरान सिद्दीकी,क़ारी इस्लाम अहमद आरफ़ी, पूर्व ज़िला पंचायत सदस्य इंतेज़ार अली,  हाजी सैय्यद इफ़्तेख़ार अली, सैय्यद माजिद अली,सैय्यद आरिफ अली एडवोकेट,डॉ सैय्यद ख़ालिद अली, मुन्ना , गुलफाम खान,अतीक अहमद,आदि उपस्थित थे अंत मे मुल्क में अमन शांति के लिए हाफ़िज़ मौलाना अनवार अहमद, ने दुआ कराई जिस पर सभी ने आमीन कहा इसके बाद उपस्थित जनसमुदाय को प्रसाद वितरित किया गया और लंगर भण्डारे लंगर का आयोजन किया मतवल्ली दरगाह सैय्यद आसिफ अली की ओर से किया गया जिसकी ब्यवस्था शमसाद खान,सिद्दीक़ खान,छोटे पठान,अब्दुल करीम,इशरत खान,भूरे,सिराज खान आदि ने कुशलता पूर्ण किया। अंत में मतवल्ली डॉ सैय्यद आसिफ अली ने सभी का आभार व्यक्त किया।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.