Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सीतापुर। रिमझिम व तेज बारिश भी आस्था को डिगा ना सकी, माता रानी की विदाई में उमड़ा जनसैलाब।

    .......... महंत बजरंग मुनि महाराज के नेतृत्व में माँ के भक्तों ने झूमते नाचते दी विदाई। 

    शरद कपूर\सीतापुर। बुधवार की सुबह से ही नहीं मूसलाधार तो कहीं रिमझिम बारिश भी माता रानी के भक्तों की आस्था को डिगा ना सकी और माता रानी के भक्तों ने माता रानी को विदाई जुलूस के रूप में नाचते गाते हुए निकाली, संपूर्ण जिले में विजयादशमी के दिन 9 दिन से स्थापित माता रानी की मूर्तियों को आज विसर्जित कर दिया गया। जनपद के विभिन्न शहरों व कस्बों एवं गांवों में शारदीय नवरात्रि के प्रथम दिन रखी गई माता दुर्गा की मूर्तियों को आज विसर्जन के लिए जो प्रसिद्ध तीर्थ स्थल नैमिषारण्य के लिए ले जाया गया।

    जनपद के अति प्राचीन कस्बा खैराबाद में सभी स्थानों पर रखी गई मूर्तियों का जुलूस एक साथ ही निकाला गया जिससे संपूर्ण कस्बे एवं क्षेत्र का वातावरण भक्ति में हो गया एवं आसमान माता रानी के जयकारों से गूंज उठा। यहां पर जुलूस का नेतृत्व महर्षि लक्ष्मण दास उदासीन बड़ी संगत कमाल सरायं के महंत बजरंग मुनि दास कर रहे थे। मां के श्रद्धालु भक्त गण अबीर गुलाल उड़ा रहे थे एवं नाच गाकर माता रानी को भावभीनी विदाई दे रहे थे, सभी जुलूस के एक साथ होने से ऐसा प्रतीत हो रहा था मानो खैराबाद की सड़कों पर जनसैलाब सा उमड़ पड़ा हो। खैराबाद में सुप्रसिद्ध  तीर्थ स्थल भुइंयाताली तीर्थ,  अति प्राचीन भूलनपुर स्थित मां गौरी देवी मंदिर, नगर पालिका के पीछे शिव मंदिर के निकट, मोहल्ला कमाल सराय में विवेक मिश्रा के निवास स्थान के निकट एवं माधोपुर में मां इच्छा पूर्ति के मंदिर पर भक्तों ने नवरात्रि के प्रथम दिन अपने माता रानी की मूर्ति स्थापित की थी।

    नवरात्रि के सातों दिन  जहां जहां पर मूर्तियों की स्थापना की गई थी वहां पर श्रीमद् भागवत कथा के साथ मां दुर्गा के भजन भी गाए जाते रहे देर रात तक भक्तों का जमावड़ा अपनी माता रानी के लिए लगा रहता था। बुधवार की सुबह से मौसम खराब होने के बावजूद भी भक्तगण पूरी तैयारी के साथ माता रानी को अपनी अंतिम विदाई दे रहे थे महेश लक्ष्मण दास उदासीन बड़ी संगत के महंत बजरंग मुनि महाराज के नेतृत्व में निकले विदाई जुलूस के दौरान पालिका सभासद निरंकार गुप्ता मनीष सिंह चौहान, संजय मेहरोत्रा उर्फ मोन्टू, राजेश सैनी, विनीत मिश्रा, प्रियंक कपूर, वउवा मिश्रा, सोनू मिश्रा, रामू वर्मा, सुमन कपूर, सपना कपूर, निधि कपूर, राधेश्याम रस्तोगी, राजू रस्तोगी, विद्वान कथाव्यास प्रहलाद शास्त्री, विवेक मिश्रा, आलोक बाजपेयी, विवेक बाजपेयी, बब्लू गुप्ता, सहित हजारों की संख्या में भक्तगण अपनी उपस्थित दर्ज कराकर  जगत जननी मां दुर्गा को विदाई देने के लिए मौजूद थे। नगर के विभिन्न मार्गो से गुजरता हुआ यह जरूर पहले भूलन पुर स्थित ऐतिहासिक मां गौरी देवी के मंदिर में पहुंचा बाद में वहां से हजारों की संख्या में सैकड़ों दोपहिया व दोपहिया वाहनों पर सवार होकर श्रद्धालुओं की टोली नैमिषारण्य के लिए रवाना हो गई। नैमिषारण्य धाम में  स्थित आदि गंगा गोमती में माता के प्रधानों ने अश्रुपूरित नेत्रों के साथ माता रानी की मूर्तियों का विसर्जन कर बाद में वहीं पर स्नान ध्यान कर नैमिष तीर्थ स्थित मां ललिता देवी के दर्शन कर पूजन अर्चन किया एवं पूर्ण लाभ अर्जित किया।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.