Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बलिया। जनपद में भी हेल्थ एटीएम स्थापित।

    रिपोर्ट सै०आसिफ हुसैन ज़ैदी.

    बलिया। मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार प्रदेश के अन्य जनपदों के साथ-साथ बलिया जनपद में भी जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी के नेतृत्व में हेल्थ एटीएम स्थापना का कार्य किया जा रहा है।  मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ० जयंत कुमार ने बताया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकंदरपुर में दिनांक 4 अक्टूबर 2022 को एक हेल्थ एटीएम स्थापित कर दिया है, इसके अतिरिक्त बैरिया ब्लाक स्थित रानी बाजार में भी एक निजी संस्थान द्वारा हेल्थ एटीएम स्थापना का कार्य प्रक्रियाधीन है।

    जनपद के हेल्थ एटीएम नोडल अधिकारी डॉ अभिषेक मिश्रा ने बताया कि हेल्थ एटीएम सामान्य ऑटोमेटेड ट्रांजैक्शन मशीन के जैसा ही दिखता है एवं इसका आकार और ऊंचाई भी सामान्य एटीएम जैसी ही होती है। इस हेल्थ एटीएम के द्वारा मात्र 15 से 20 मिनट के अंदर 40 से अधिक प्रकार के जांचो को किया जा सकेंगा, जिसमें ब्लड प्रेशर, बोन मास, BMI, बॉडी हाइड्रेशन, मेटाबॉलिक रेट, बॉडी फैट परसेंटेज, टेंम्परेचर, ऑक्सीजन सैचुरेशन, सामान्य खून की जांच जैसे कि लिपिड प्रोफाइल, हीमोग्लोबिन, पेशाब की जांच, गर्भावस्था की जांच आदि के साथ-साथ डेंगू, मलेरिया, टाइफाइड,HIV आदि की जांच भी की जा सकेगी। 

    इस मशीन के द्वारा ईसीजी, स्किन एवं कान की भी जांच की जा सकेगी। इसके साथ ही मशीन द्वारा प्रिंटेड रिपोर्ट तथा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का प्रयोग करते हुए auto-generated कंसल्टेशन भी प्रदान किया जाता है।  डॉ मिश्रा ने बताया कि पैथोलॉजी लैब में संचालित सामान्य मशीन में व्यक्ति की नसों से लगभग 5ml के आसपास खून लेना होता है और जांच  के नतीजे आने में कम से कम 2 से 3 घंटों का समय लगता है, अधिकतर मामलों में तो जांच रिपोर्ट अगले दिन ही दी जाती है। जबकि हेल्थ एटीएम में उपरोक्त सभी जाचो को करने के लिए मात्र तीन से चार बूंद रक्त की आवश्यकता होती है। जिस प्रकार ग्लूकोमीटर द्वारा जांच हेतु उंगली को प्रिक करके कैपिलरी ब्लड लिया जाता है, उसी प्रकार हेल्थ एटीएम से जांच हेतु भी कैपिलरी ब्लड लिया जाता है। 

    हेल्थ एटीएम में जाचो के साथ-साथ टेलीकंसल्टेशन की सुविधा भी उपलब्ध होती है। हेल्थ एटीएम एक ऐसी यूनिट है जिसमें सामान्य शारीरिक जांच, खून, पेशाब आदि की जांच के साथ-साथ टेलीकंसल्टेशन भी दिया जा सकता है। वर्तमान में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकंदरपुर पर स्थापित हेल्थ एटीएम "योलो" कंपनी का है जो पूरी तरह स्वदेशी है तथा भारतीय तकनीक द्वारा निर्मित है। हेल्थ एटीएम के क्रियान्वयन से सुदूर ग्रामीण अंचलों में चिकित्सक तथा प्रयोगशाला की कमी को दूर किया जा सकेगा। इंस्टॉलेशन के साथ ही योलो कंम्पनी से आए इंजीनियर नरेंद्र द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकंदरपुर पर कार्यरत उमेश चंद्र तिवारी प्रयोगशाला प्राविद्धिग्य, नंदलाल नेत्र परीक्षण अधिकारी, अशोक यादव फार्मासिस्ट, पुष्कर राय स्टाफ नर्स आदि को हेल्थ एटीएम के संचालन हेतु प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। यह प्रशिक्षण कार्यशाला 2 दिनों तक चलेगी। हेल्थ एटीएम स्थापना के अवसर पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकंदरपुर के अधीक्षक डॉ० व्यास कुमार, डॉ० दिग्विजय कुमार, डॉ० संदीप गुप्ता, डॉ० अभिषेक राय, डॉ० मुख्तार यादव, आदि उपस्थित रहे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.