Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गोरखपुर। लोक कल्याण की कामना से मुख्यमंत्री योगी ने किया कन्या-पूजन।

    गोरखपुर। जगत जननी मां आदिशक्ति की आराधना के पावन पर्व शारदीय नवरात्र की महानवमी तिथि पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ ने गोरक्षपीठ की परंपरा का निर्वाह करते हुए मंगलवार की सुबह विधि-विधान से कन्या-पूजन कर मातृशक्ति की आराधना कर लोक कल्याण की कामना की। 

    मुख्यमंत्री ने जगत जननी मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की प्रतीक नौ कुंवारी कन्याओं के पांव पखारे, चुनरी ओढ़ाई, आरती उतारी, श्रद्धापूर्वक भोजन कराया, दक्षिणा और उपहार देकर उनका आशीर्वाद लिया। उन्होंने परम्परानुसार भौरो स्वरुप बटुक पूजन भी किया। कन्या पूजन अनुष्ठान मठ के प्रथम तल पर स्थित भोजन कक्ष में श्रद्धाभाव से परंपरागत रूप से पीतल के परात में, चांदी के लोटे में भरे जल से नौ कन्याओं के बारी-बारी पांव धोये। उनके मस्तक पर रोली, चंदन, दही, अक्षत, दूर्वा का तिलक लगाया। चुनरी ओढ़ाकर, आरती उतार कर उपहार एवं दक्षिणा प्रदान कर आशीर्वाद लिया। पूजन के बाद इन कन्याओं समेत शताधिक कन्याओं व छोटे बालकों को मंदिर की रसोई में पकाया गया ताजा प्रसाद योगी ने अपने हाथों से परोसा।

    कन्या पूजन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी का सानिध्य पाने के लिए नन्हीं बालिकाओं व बटुकों का उत्साह-उमंग देखते ही बन रहा था। मुख्यमंत्री के हाथों दक्षिणा मिलने से सभी काफी प्रफुल्लित दिखे। पूजन के बाद भोजन परोसते समय योगी बच्चों से निरंतर संवाद और ठिठोली भी करते रहे। यह भी ख्याल रखते रहे कि किसी भी बालक-बालिका की थाली में भोजन प्रसाद की कोई कमी न रहे। इसे लेकर वह मंदिर की व्यवस्था से जुड़े लोगों को लगातार निर्देशित भी करते रहे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.