Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    प्रयागराज। पुराने कुएं में मोटर निकालने गए मजदूरों की दीवार ढहने से एक की हुई मौत, तीन सुरक्षित।

    प्रयागराज। कुंए में रही बोरिंग पाइप व ईट निकालने के चक्कर में दो मजूदर दीवार ढह जाने से मिट्टी में दब गए। एक मजदूर को तो उसके साथियों ने किसी तरह बाहर निकाल लिया, जबकि एक साथी मिट्टी के अंदर दब गया। पकरी सेवार के शंभूचक गांव में इस घटना की जानकारी जैसे ही श्रमिकों ने पास पड़ोस के लोगों को दी हड़कंप मच गया। भारी संख्या में लोग घटना स्थल पर पहुंच मिट्टी में दबे मजदूर को निकालने में जुट गए, लेकिन वह निकल न सका। पुलिस ने जेसीबी की मदद से कुंए की मिट्टी में दबे मजदूर को निकालने में जुट गए, लेकिन रात सवा आठ बजे से मजदूर निकल नहीं सका था। मिट्टी को निकालने के लिए तीन मजदूर कुंए में गए थे, लेकिन उन्हें भी बाहर सुरक्षित निकाल लिया गया। शम्भूचक गाँव के पूर्व प्रधानाचार्य उदयवीर सिंह ने खेत सिंचाई के उद्देश्य से गांव के दक्षिण में कुंए का निमार्ण करा रखा था। तीन दिनों से काम चल रहा था। 

    जिसमें विगहनी पसियान बस्ती के गोपाल पुत्र जय पासी, अखिलेश पुत्र माली, दुर्गा प्रसाद पुत्र राजकुमार, दिलीप पुत्र राजबली, त्रिलोकी पासी पुत्र शंकर, काम में जुटे थे। शाम पाँच बजे के लगभग उपर से मिट्टी का टीला ढह गया। जिसमें गोपाल (34) पुत्र जय पासी व रामचन्द्र दब गए। रामचन्द्र को उसके साथियों ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया, जबकि गोपाल कुंए में ही दबा रहा। उसे निकालने के लिए पुलिस व अग्निशमन विभाग जुटा रहा। अंततः पुणे की जेसीबी से खुदाई करवा कर गोपाल को बाहर निकाला गया लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.