Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पलवल। बिजली के करंट से 8 वर्षीय बच्चे की मौत।

    ऋषि भारद्वाज

    पलवल। होडल के पथवारी मंदिर में  बीती रात हो रहे जागरण के समय बिजली का करंट लगने से एक 8 वर्षीय वंश नामक बच्चे की मौत हो गई। यह हादसा उस समय हुआ जब होडल के पथवारी मंदिर में जागरण चल रहा था और मृतक वंश अपने जिला मथुरा से अपनी मां के साथ अपने मामा के घर आया हुआ था और मृतक वंश  अपने मामा और उसके बच्चों के साथ जागरण देखने के लिए मंदिर में गया ।  जैसे ही यह मंदिर के अंदर पहुंचा तो उसने मंदिर के  गेट को छुआ तो गेट में बिजली का करंट आ रहा था। उसी समय करंट से इस बच्चे की मौत हो गई । पुलिस ने मृतक बच्चे के मामा कुंवर चंद के बयान पर मंदिर के पुजारी और जनरेटर संचालक के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।  पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पलवल के नागरिक अस्पताल में भेज दिया है।

    पुलिस जांच अधिकारी अख्तर खान ने जानकारी देते हुए बताया कि होडल के सरकारी अस्पताल के समीप रहने वाले कुंवरचंद ने पुलिस को शिकायत दी है कि दिनांक 4 अक्तूबर  की रात के समय लगभग 3:00 बजे मैं और मेरा चाचा सुभाष और मेरा भांजा वंश जो मेरी बहन के साथ गौतम नगर डाडरा थाना सदर  जिला मथुरा यू पी उनके घर आया हुआ था वह उसको भी साथ लेकर  जागरण देखने के  अपने चाचा सुभाष और भांजे के साथ होडल के पथवारी मंदिर पर गया।  लेकिन इस जागरण में बिजली के लिए जनरेटर लगाया हुआ था और जनरेटर की तार मंदिर के बाहर तक लाइटों  को जलाने के लिए लगाई हुई थी जो रास्ते में नंगी पड़ी हुई थी।  पुलिस अधिकारी ने बताया कि उन्होंने शिकायत में बताया कि जो तारे जनरेटर से बाहर तक जा रही थी वह गेट और शटर को छूती हुई जा रही थी जो नंगी थी। शिकायतकर्ता ने बताया कि जैसे ही वह मंदिर के अंदर घुसे तो उसके भांजे वंश ने शटर को हाथ लगाया और जैसे ही उसने शटर  को हाथ लगाया तो बिजली के करंट ने उसको पकड़ लिया । उसने और उसके चाचा ने उसको डंडों की सहायता से शटर  से छुड़ाया और उसको लेकर वह होडल के सरकारी अस्पताल में पहुंचे जहां डॉक्टरों ने उसके भांजे वंश को मृत घोषित कर दिया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि मृतक वंश के मामा कुंवरचंद के की शिकायत के आधार पर मंदिर के पुजारी अमित और जनरेटर के संचालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस जांच अधिकारी ने बताया की शव को कब्जे में लेकर शव का  पोस्टमार्टम करा कर शव को परिजनों को सौंप दिया है।  पुलिस अधिकारी ने बताया कि मंदिर के पुजारी और जरनेटर के चंचालक के  खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपीयो  की तलाश शुरू कर दी है।  लेकिन अभी सभी आरोपी फरार हैं जिनको जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा । वहीं मृतक वंश के मामा कुंवर चंद और उसके पिता  जीतू ने बताया कि जो उनके बच्चे की मौत हुई है पर मंदिर के पुजारी की लापरवाही और जनरेटर संचालक की लापरवाही की वजह से हुई है। क्योंकि उन्होंने तारों को रास्ते में नंगी छोड़ा हुआ था और जो जगह-जगह से कटी हुई थी और तारों में कट होने की वजह से यह तारे शटर और गेट को छूती हुई जा रही थी जिससे शटर में करंट आ गया और उस शटर को उनके भांजे ने हाथ लगाया तो तुरंत ही बिजली ने उनके भांजे बेटे को पकड़ लिया। जिससे उसकी मौत हो गई है।  उन्होंने बताया कि इसमें मंदिर के पुजारी और  जनरेटर संचालक की काफी लापरवाही है और उनकी शिकायत के आधार पर इन दोनों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.