Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या। गुप्तार घाट के निर्मली कुंड में 5 अक्टूबर को विसर्जित होंगी दुर्गा प्रतिमाएं।

    ............ सुरक्षा के व्यापक बंदोबस्त सिविल ड्रेस में तैनात रहेगी पुलिस बल। 

    देव बक्श वर्मा

    अयोध्या। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की धर्म नगरी अयोध्या में दुर्गा पूजा और रामलीला की धूम चल रही है! आज आखिरी दिन है कल 5 अक्टूबर को दुर्गा प्रतिमाएं विसर्जित होगी। भगवती की परंपरागत और भव्य शोभा यात्रा 5 अक्टूबर दिन बुधवार को सुबह 11:00 बजे राजकीय इंटर कॉलेज से निकल कर फतेहगंज चौराहा, चौक, रिकाबगंज होते हुए सहादतगंज हनुमानगढ़ी के रास्ते निर्मली कुंड जाएगी! केंद्रीय समिति द्वारा सभी दुर्गा पूजा और रामलीला समितियों को एडवाइजरी जारी करते हुए कहा गया है कि सभी लोग अपने पंडाल में 5 बोरी बालू 2 ड्रम पानी और सूखी मिट्टी का इंतजाम आकस्मिक स्थिति के लिए अवश्य रखें!  इसके साथ ही अग्निशमन यंत्र भी प्रत्येक पंडाल सहित संपूर्ण मेला क्षेत्र और शोभा यात्रा के दौरान आतिशबाजी और शराब का सेवन प्रतिबंधित है! पंडालों पर जो विद्युत के तार हैं वह कहीं खुले ना हो इस बात को सुनिश्चित किया जाना नितांत ही आवश्यक है! फैजाबाद में लगे वलियों पर नीचे से लगभग 9 फीट तक प्लास्टिक के द्वारा  अवश्य पैक किया जाए! यदि संभव हो तो पंडाल के आसपास सीसीटीवी का भी प्रबंध किया जाए। 

    दुर्गा प्रतिमा विसर्जन स्थल निर्मली कुंड का जिला प्रशासन के अधिकारियों व केंद्रीय दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष व पदाधिकारियों ने किया निरीक्षण। विसर्जन स्थल को जोन व सेक्टर में बांटा गया। सेक्टर मजिस्ट्रेट के साथ पीएसी व सिविल फोर्स भी रहेगी तैनात। जीआईसी के मैदान में एकत्र होंगे शहर क्षेत्र के प्रतिमाएं। गुप्तार घाट के निर्मली कुंड पर शहर क्षेत्र की 112 दुर्गा प्रतिमाओं का होगा विसर्जन। कल सुबह लगभग 11:00 बजे शुरू होगी दुर्गा विसर्जन शोभायात्रा। दुर्गा विसर्जन शोभायात्रा में बड़ी संख्या में भक्तगण शामिल होंगे! ग्रामीण अंचल की दुर्गा प्रतिमाएं सोहावल क्षेत्र की धेमावा घाट पर, मसौधा क्षेत्र की भरतकुंड पर, विसर्जित होंगी गोसाईगंज क्षेत्र की उसी क्षेत्र के सरयू के किनारे विसर्जित होंगी। मिल्कीपुर क्षेत्र की दुर्गा प्रतिमाएं मिल्कीपुर क्षेत्र में ही विसर्जित होंगी! शहर क्षेत्र की दुर्गा प्रतिमाएं गुप्तार घाट के निर्मली कुंड पर विसर्जित होंगी अयोध्या क्षेत्र की प्रतिमाएं सरयू नदी के किनारे विसर्जित होंगी! जिसकी तैयारियां पूरी हो गई है प्रशासन ने भी सुरक्षा के व्यापक बंदोबस्त किए हैं इस बार दुर्गा प्रतिमाओं के साथ ट्रैक्टर ट्राली पर बैठकर जाने वालों की रोक रहेगी। 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.