Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    ग़ाज़ीपुर। आयुष्मान भारत स्थापना दिवस के अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष ने लाभार्थियों में वितरित किया आयुष्मान कार्ड।

    .......... जिला पंचायत अध्यक्ष ने 21 मरीजों को भी लिया गोद। 

    महताब आलम\ग़ाज़ीपुर। 23 अप्रैल 2018 रांची से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आयुष्मान भारत योजना का शुभारंभ गरीब और असहाय लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए ₹5 लाख तक का निशुल्क इलाज की योजना का शुभारंभ किया था।  इसी योजना के शुभारंभ के स्थापना दिवस पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय के सभागार में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष सपना सिंह और विशिष्ट अतिथि जिला अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह रहे। इस कार्यक्रम में कुल 12 लोगों को आयुष्मान कार्ड का वितरण किया गया। साथ ही भारत सरकार के महत्वाकांक्षी योजना टीबी मुक्त भारत पर भी चर्चा किया गया।

    जिला पंचायत अध्यक्ष सपना सिंह ने इस कार्यक्रम के माध्यम से आमजन को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना और मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के लाभ के बारे में बताया।। साथ ही साथ चल रहे आयुष्मान पखवाडा जिसमें 75000 परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनाए जाने का कार्य चल रहा है। उसमें छूटे हुए परिवार के लोगों से अपना आयुष्मान कार्ड जल्द से जल्द बनवाने का आग्रह किया। ताकि किसी भी विशेष परिस्थिति में लोग इसका लाभ उठा सकें।

    आयुष्मान भारत योजना के आईटी मैनेजर अमित उपाध्याय ने बताया कि जनपद में 15 से 30 सितंबर तक आयुष्मान कार्ड पखवाड़ा चलाया जा रहा है। जिसमें 75000 परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनाया जाना था। जिसमें से अब तक 4000 आयुष्मान कार्ड बनाए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि मौजूदा समय में सरवर में कुछ प्रॉब्लम होने की वजह से कार्ड बनाने की प्रगति थोड़ी धीमी है। लेकिन आने वाले समय में उसे पूरा करने का कार्य किया जाएगा।

    क्षय रोग के जिला कार्यक्रम समन्वयक मिथिलेश सिंह ने बताया कि इस कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष सपना सिंह ने क्षयरोग से पीड़ित रोगियों को गोद लेने के लिए आह्वाहन किया। तथा खुद जिला पंचायत अध्यक्ष के द्वारा 21 टीबी मरीजों को गोद लेने की बात कही। इस दौरान भाजपा जिला अध्यक्ष भानु सिंह के द्वारा सभी कार्यकर्ताओं तथा जनप्रतिनिधि को टीबी मरीजों को गोद लेने के लिए कहा गया। टीबी मुक्त भारत के लिए  देश के प्रधानमंत्री ने 2025 का लक्ष्य रखा है कि 2025 तक टीबी मुक्त भारत बनाना है। जिसके लिए हमारे देश के महामहिम राष्ट्रपति महोदय के द्वारा 9 सितम्बर को टी बी मरीजों को गोद लेने के लिए कहा गया।

    उत्तर प्रदेश के महामहिम राज्यपाल  ने भी टीबी मरीजों को गोद लेने के लिए कहा है और स्वयं लिया भी है।पूरे भारत में उत्तर प्रदेश के राज्यपाल महोदया ने इस का पहल किया था।इस कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ हरगोविंद सिंह ,क्षयरोग अधिकारी/अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ मनोज कुमार सिंह तथा सभी एसीएमओ उपस्थित थे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.