Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। कमोडिटी एक्सचेंज के नाम पर ठगने वाले तीन और अभियुक्त दबोचे, चाइना से ऑपरेट हो रहा साइबर फ्राड का पूरा नेटवर्क।

    .......... ठगी करने के लिये चाइनीज अभियुक्तों ने बना रखी थी फर्जी वेबसाइट 

    ........ कभी गेम तो कभी लोन तो कभी कमोडिटी एक्सचेंज के नाम पर फंसाते हैं 

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। मोटी रकम हासिल करने के बाद अभियुक्त वेबसाइट को कर देते हैं क्रैश -चाइनीज मास्टरमाइंड की तलाश में जुटी कानपुर कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच - इसके पहले भी ठगी करने वाले चार अभियुक्तों को क्राइम ब्रांच पकड़ चुकी कार्पोरेट मंत्रालय भारत सरकार द्वारा भी चाइनीज नागरिको द्वारा फर्जी कम्पनी बनाकर अपराध करने वाले व्यक्तियों पर कार्यवाही की जा रही है।

    अपराध संख्या-139/22 धारा-420/409/467/120बी भादवि 66डी आईटी एक्ट थाना कोतवाली में दर्ज प्रकरण में क्राइम ब्रांच टीम द्वारा अभी तक 07 अभियुक्त गिरफ्तार भारतीय सीमा में लगातार घुसपैठ की फिराक में रहने वाला चाइना अब साइबर फ्राड करके भारतीयों को आर्थिक रूप से नुकसान पहुंचाने की जुगत में है। पुलिस कमिश्नरेट कानपुर नगर की क्राइम ब्रांच ने एक बार फिर चाइनीज शातिरों के मंसूबों पर पानी फेर दिया है। क्राइम ब्रांच ने तीन और अभियुक्तों को दबोच लिया साथ ही चाइनीज मास्टर माइंड की तलाश में टीम जुटी हुई है।

    • इस प्रकार शिकार बना रहे शातिर

    चाइना में बैठे मास्टर माइंड भारतीय नागरिकों को ठगने के लिये तीन तरह के पैतरे इस्तेमाल कर रहे हैं। पहला पैतरा यह कि लोगों को कमोडिटी एक्सचेंज और क्रिप्टोकरेंसी के नाम पर इंवेस्ट करने के लिये फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया के माध्यम से लिंक भेजते हैं और इसके बाद जब कोई व्यक्ति अच्छी खासी रकम इंवेस्ट कर देता है तो शातिर अभियुक्त वेबसाइट को क्रैश कर देते हैं।यश यादव पुत्र महेश यादव,अनुपम द्विवेदी पुत्र प्रेमचंद्र द्विवेदी,गिरफ्तार करने वाली टीम में इंस्पेक्टर सचिद्दानंद कोतवाली, सब इंस्पेक्टर पुनीत तोमर क्राइम ब्रांच, कांस्टेबल जितेंद्र गर्ग क्राइम ब्रांच, कांस्टेबल धर्मेंद्र प्रताप क्राइम ब्रांच, कांस्टेबल मोहित चौधरी क्राइम ब्रांच, कांस्टेबल प्रवीन कुमार को श्रीमान पुलिस आयुक्त द्वारा 50,000/- रु० ईनाम दिया जायेगा।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.