Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। स्पोर्टस साइकल एवं ई-रिक्शा के जरिये सुगम, सुलभ और पर्यावरण अनुकूल यातायात सुविधा आज से प्रारम्भ।

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। हरकोर्ट बटलर प्राविधिक विश्वविद्यालय के पश्चिमी एवं पूर्वी प्रांगण के बीच आवागमन में छात्रों/स्टाफ को होने वाली असुविधा का समाधान करने की दिशा में उ0प्र0 शासन एवं जिला प्रशासन ने एच0बी0टी0यू0 प्रशासन के साथ मिलकर पर्यावरण अनुकूल यातायात सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है। इस कड़ी में स्थानीय जिला प्रशासन एवं एच0बी0टी0यू0, कानपुर ने कानपुर स्मार्ट सिटी लि0, रिमझिम इस्पात एवं ई-रिक्शा वेलफेयर एसोसियेशन के संयुक्त प्रयास से स्पोर्टस साइकल एवं ई-रिक्शा के जरिये सुगम, सुलभ और पर्यावरण अनुकूल यातायात सुविधा आज से प्रारम्भ की गयी है। 

    राज्यपाल के सुझाव और निर्देश के क्रम में मुख्य सचिव के मार्ग दर्शन एवं स्थानीय प्रशासन और एचबीटीयू की पहल से 3 माह में  सम्भव हो सका। इसका शुभारम्भ उ0प्र0 शासन के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र के कर कमलों द्वारा आज प्रातः 8.30 बजे एच0बी0टी0यू0, कानपुर के पश्चिमी प्रांगण में नव निर्मित साइकल/ई-रिक्शा स्टैण्ड पर किया गया। विश्वविद्यालय के इन दोनों परिसर के बीच की दूरी 3.7 किमी है, जिसके लिए 100 स्पोर्ट्स साइकल (50 पूर्वी और 50 पश्चिमी प्रांगण हेतु) सभी छात्रों और संकाय सदस्यों के निःशुल्क उपयोग के लिए मुहैया कराई गई है। इसी प्रकार पूर्व और पश्चिम परिसर में कुल 30 ई-रिक्शा ₹10 के रियायती दर पर उपलब्ध कराये गये है। तथा परिसर में इन स्पोर्टस साइकलों और ई-रिक्शा के लिए शेड एवं चार्जिंग की सुविधा भी उपलब्ध है। 

    मुख्य सचिव महोदय द्वारा स्पोर्टस साइकलों को रात्रि में प्रयोग करने को सुगम बनाने के उद्देश्य से इसमें अगला कदम के रूप में प्रकाश व्यवस्था और डायनेमो को जोड़े जाने हेतु निर्देशित किया गया। साथ ही साइकल और ई-रिक्शा की बुकिंग के लिए एक मोबाइल ऐप विकसित करने के लिए विश्वविद्याल प्रशासन को निर्देशित किया गया।

    विश्वविद्यालय के दोनों परिसरों के मध्य इस विशेष सुविधा के प्रारम्भ होने से छात्र-छात्राएं अत्यन्त खुश हुये और प्रथम दिन ही भारी संख्या में छात्र-छात्राओं द्वारा इस सुविधा का प्रयोग किया गया। इस मौके पर एच0बी0टी0यू0 के कुलपति प्रो0 समशेर, मण्डलायुक्त कानपुर डा0 राज शेखर, जिलाधिकारी कानपुर नगर विशाख जी0, प्रति कुलपति डी0 परमार एवं रिमझिम इस्पात के मालिक योगेश अग्रवाल जी उपस्थित रहे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.