Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    संभल। लब्बैक या हुसैन के नारो के बीच निकाला गया चेहलुम जुलूस।

    उवैस दानिश\संभल। हज़रत इमाम हुसैन व कर्बला में शहीद हुए 72 शहीदों की याद में चेहलुम का जुलूस अकीदत के साथ निकाला गया। युवाओं ने ढोल बजाकर हुसैन की सदायें बुलन्द की। पुलिस प्रशासन की ओर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए।

    रविवार को नगर में नवासा-ए-रसूल हज़रत इमाम हुसैन व बहत्तर शहीदों की याद में निकाले गए चेहलुम के जुलूस में हज़ारो की संख्या में हुसैनी अकीदतमन्दो का सैलाब देखने को मिला। हर तरफ या अली-या हुसैन, लब्बैक या हुसैन के नारे गूंज उठे। अस्पताल चौराहे, मौहल्ला नाला, मण्डी किशनदास सराय, नूरियो सराय, सैफ खां सराय के चेहलुम बाल विद्या स्कूल मार्ग से अजण्टी चौराहा होते हुए स्टेट बैंक चौराहे पर जमा हुए। यहां से बड़े जुलूस की शक्ल में चेहलुम का जुलूस आर्य समाज रोड, छंगा मल कोठी, खग्गू सराय तिराहा, अंजुमन तिराहा होते हुए नखासा चौराहा हुसैनी रोड पर पहुंचकर समाप्त हुआ। यहां चेहलुमदारो ने अपने ताज़ियो पर नज़्र पेश कर मिलाप करते हुए जुलूस सम्पन्न किया। इस दौरान चेहलुमदारो की हौंसला अफज़ाई करने पहुंचे नेताओं को पगड़ी बांधकर सम्मानित किया गया। एसडीएम विनय कुमार मिश्र, सीओ जितेन्द्र कुमार व कोतवाली प्रभारी ओमकार सिंह एवं असमोली व नखासा एवं हयातगनर के थानाध्यक्ष पुलिस बल के साथ चेहलुम के जुलूस की सुरक्षा में जमे रहे। उधर युवाओं ने ढोल बजाकर या हुसैन की सदायें बुलन्द की। देर शाम चेहलुम का जुलूस शांति पूर्ण माहौल में सम्पन्न हो गया। चेहलुम को अकीदतमन्दों ने खूब सराहा और जमकर नज़राने पेश किए।

    सुहैल इक़बाल

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.